• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • नेशनल हाईवे 113 पर बड़ोदिया से गुजरात सीमा तक रात में सफर करने से डरते हैं यात्री
--Advertisement--

नेशनल हाईवे 113 पर बड़ोदिया से गुजरात सीमा तक रात में सफर करने से डरते हैं यात्री

भास्कर संवाददाता| बांसवाड़ा/कलिंजरा नेशनल हाईवे 113 बड़ोदिया से झालोदा के बीच रात के समय पर वाहन लेकर आने वाले...

Danik Bhaskar | Jun 01, 2018, 03:50 AM IST
भास्कर संवाददाता| बांसवाड़ा/कलिंजरा

नेशनल हाईवे 113 बड़ोदिया से झालोदा के बीच रात के समय पर वाहन लेकर आने वाले यात्रियों और राहगीरों के साथ लूट और मारपीट की वारदातें पिछले कुछ समय से बढ़ने लगी। सप्ताह में एक दो बार इस रास्ते पर रात को यात्रियों के साथ मारपीट कर नकदी और सामान लुटने की घटनाएं हो रही हैं। ऐसे में रात के समय इन हाईवे पर सफर करने में भी यात्रियों काे डर लगता है।

पुलिस लूट और मारपीट की वारदातों को रोकने में पूरी तरह से फेल हो रही है। इन घटनाओं के बारे में जानकारी देने के बावजूद ना तो गश्त बढ़ा रही है और ना ही लुटेरों को पकड़ने में कोई विशेष कदम उठा रही है। ऐसे में लोगों का पुलिस के प्रति खासा आक्रोश बढ़ गया है। सोमवार रात को नेशनल हाईवे 113 पर बुड़वा मोड़ और भीलकुंआ के आगे बिलड़ी में अहमदाबाद से इलाज कराकर आ रहे यात्रियों की कार के शीशे फोड़ दिए। खांदू कॉलोनी के एक परिवार की कार रोककर हथियारों से लेस 10-12 लुटेरों ने मारपीट कर नकदी, जेवर और जरूरी सामान लूटकर भाग गए। इस घटना में चार जने गंभीर रूप से घायल हो गए। इससे पहले बिलड़ी के पास ठीकरिया के एक परिवार जो अहमदाबाद से इलाज कराकर आ रहा था उसकी मारुति वेन के शीशे फोड़ दिए। गनीमत रही कि वाहन तेज गति से चलाकर वहां से भाग निकले इसलिए बड़ा हादसा होने से टल गया। 15 दिन पहले भी इसी हाईवे पर सागवा मोड़ पर बांसवाड़ा से सूरत जाने वाली यात्री बस पर पथराव किया गया था। उसके दूसरे दिन फिर शादी समारोह से लौट रही मिनी बस पर हथियारबंद बदमाशों ने पथराव कर गाड़ी के शीशे फोड़ दिए थे। इस हाईवे पर लूट और मारपीट की वारदातें बढ़ने की सूचना के बावजूद पुलिस गंभीरता नहीं बरत रही, जिसका खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। हाईवे पर लूट और मारपीट की बढ़ती वारदातों के डर से लोगों ने देर रात को सफर करना भी बंद कर दिया है। कयास यह लगाए जा रहे हैं कि मध्यप्रदेश के कुछ हथियारबंद बदमाश चार पहिया वाहन लेकर रात को आते हैं और रैकी कर यात्रियों के साथ लूटपाट कर रातों-रात वापस भाग जाते हैं, ऐसे में इन्हें कोई पकड़ भी नहीं सकता।

बड़ोदिया और कलिंजरा के बीच नेशनल हाईवे 113, जहां लूट की वारदात हुई।

इधर, घाटोल क्षेत्र में भी बाइक सवारों से नकदी और मोबाइल की लूट

घाटोल| उपखंड घाटोल के गांगजी का खेड़ा निवासी मोहन पुत्र कानजी ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मारपीट कर नकदी और मोबाइल लूटने का मामला जर्द कराया है। मोहनलाल ने बताया कि 28 मई की रात 10.30 बजे वह अपने दोस्त भरत पटेल के साथ डूंगरिया से मजदूरी कर अपने घर गांगजी का खेड़ा लौट रहा था। इस दौरान घाड़ा घाटी में सूनसान जगह पर तीन बाइक पर सवार होकर लूअ के इरादे से छह जने आए और रोककर मारपीट करते हुए 10 हजार की नकदी और मोबाइल छीनकर भाग गए।