• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • दो बार शादी, दोनों पति की मौत, सदमे में मानसिक रोगी हुई महिला को उदयपुर भेजा
--Advertisement--

दो बार शादी, दोनों पति की मौत, सदमे में मानसिक रोगी हुई महिला को उदयपुर भेजा

घाटाेल| कस्बे में दो साल से सड़कों पर अपने बच्चे के साथ घूम रही एक मानसिक रोगी महिला की सुध रविवार को प्रशासन ने ली...

Danik Bhaskar | May 07, 2018, 04:00 AM IST
घाटाेल| कस्बे में दो साल से सड़कों पर अपने बच्चे के साथ घूम रही एक मानसिक रोगी महिला की सुध रविवार को प्रशासन ने ली और उसे उदयपुर आशा धाम में भेज दिया गया। वहीं उसके डेढ़ वर्ष के बच्चे को बाल कल्याण समिति को सौंप दिया गया।

घाटोल उपखंड अधिकारी के निर्देश पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सुरक्षा अधिकारी गौतमलाल मीणा, तहसीलदार डाया लाल डामोर, पटवारी कमल गर्ग और खमेरा थाना पुलिस ने महिला के परिजनों से संपर्क कर सहमति से महिला को आशा धाम आश्रम उदयपुर और बच्चे को बाल कल्याण समिति भेजने की कार्रवाई की। प्रशासन की इस मामले में लापरवाही यहां उजागर होती है कि इस महिला के बारे में पूरे लवाजमे को पहले से ही पता था। यहां तक कि इसके परिजनों के बारे में भी पूरी जानकारी थी। इसके बावजूद प्रशासन ने इसकी सुध नहीं ली। इस कारण यह मानसिक विक्षिप्त महिला सस्ड़कों पर घूमती रहती थी। इसी बीच दो साल पहले उसने एक बच्चे को जन्म दिया।

रविवार को पहले तो प्रशासन ने महिला के भाई उदयलाल पुत्र हडमतिया निवासी हिम्मतसिंह का गढ़ा से संपर्क किया। उदयलाल ने बताया कि उसकी बहन की शादी पहले मोयावासा में नारू पुत्र हरदारिया से कराई थी। कुछ समय बाद नारू की मौत हो गई। इसके बाद दूसरी शादी जगपुरा में शंकर से कराई। शादी के एक दो साल बाद शंकर की भी सड़क हादसे में मौत हो गई। जिसके सदमे में बहन की मानसिक स्थिति बिगड़ गई।