• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • द्रोपती- पिता बसपा से हैं और मैं भाजपा से। उन्हें मेरा भाजपा से जुड़ना पसंद नहीं, लेकिन मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगी
--Advertisement--

द्रोपती- पिता बसपा से हैं और मैं भाजपा से। उन्हें मेरा भाजपा से जुड़ना पसंद नहीं, लेकिन मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगी

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:30 AM IST
द्रोपती- पिता बसपा से हैं और मैं भाजपा से। उन्हें मेरा भाजपा से जुड़ना पसंद नहीं, लेकिन मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगी

द्रोपती: विधानसभा चुनाव से पहले सेम पीडि़त किसानों से विधायक चुने जाने पर समस्या समाधान का वादा किया था। उस वादे पर खरा उतरते हुए 10 जून 2017 को सेम समस्या के निवारण के लिए बड़ोपल ढ़ाब का पानी उठाने के कार्य का शिलान्यास करवा दिया। जिसका कार्य प्रगति पर है। सेम समस्या के निवारण के लिए मैने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री उमा भारती व जल संसाधन विभाग के सचिव के साथ कई बैठकें कीं और प्रधानमंत्री कार्यालय में पत्राचार भी किया।


द्रोपती: इस मार्ग के निर्माण के लिए मैने केंद्रीय मंत्री गडकरी से मुलाकात कर उन्हें रक्षासूत्र बांध इस रोड के निर्माण की मांग की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने रोड बनाने की घोषणा की है।


द्रोपती: एक किसान की बेटी होने के नाते किसानों के हर दुख दर्द को भलीभांति समझती हूं। किसानों के हितों के लिए केसीसी, नरमे-कपास की समर्थन मूल्य पर खरीद व नहरों को पक्का करवाना और उनकी सिल्ट निकलवाने जैसे मुद्दे विधानसभा में उठा चुकी हूं। इस मामले में राजस्व मंत्री चौधरी अमराराम से बातचीत कर किसानों को खातेदारी सनद जारी करवाई है। मैं कांग्रेसियों की तरह आंदोलनों में शामिल हो आंदोलनकारियों को झूठा दिलासा नहीं दिलाती।


द्रोपती: मेरे पिता बहुजन समाज पार्टी से जुड़े हुए हैं। उन्हें मेरा भाजपा से जुड़ना पसंद नहीं है परंतु मैंने अपना करियर भाजपा से ही शुरू किया है और हमेशा भाजपा के साथ ही रहूंगी। पार्टी के हर आदेश व जिम्मेवारी की पूरी निष्ठा से पालना करती रहूंगी।


द्रोपती: यह मुद्दा वर्षों से उठ रहा है। कांग्रेस विधायकों व सांसदों ने तो कुछ नहीं किया। मैने संग्रहालय का जीर्णोद्वार करवाया।

द्रोपती मेघवाल

द्रोपती मेघवाल रावतसर पंचायत समिति की पंचायत खोडां की सरपंच रहीं। पिता लीलूराम बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ता हैं। सत्तारूढ़ पार्टी की विधायक होने के नाते इनकी जिम्मेदारी है कि क्षेत्र की समस्याओं को सीएम के सामने रखें और उनका हल भी करवाएं।

विनोद गोठवाल विगत चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार रहे। इसके बाद यूथ कांग्रेस के लोकसभा अध्यक्ष रहते हुए संगठन को मजबूत करने का कार्य किया। परिणामस्वरूप पार्टी ने उन्हें प्रदेश कमेटी में सदस्य बनाया। इन्हें भी समस्याओं को बतौर विपक्ष मजबूती से उठाना चाहिए।

विनाेद गोठवाल

द्रोपती-सेम से निपटना दूर, वहां बर्ड सेंचुरी की योजना बना डाली

विनोद- पंपसेट लगवाया था, भाजपा ने उसका 30 लाख का बिल ही नहीं भरा। सेंचुरी बनती तो रोजगार मिलता


गोठवाल: कांग्रेस शासन में बनाई गई योजनाओं को ही क्रियांवित कर भाजपा ने वाहीवाही लूटी है। भाजपा सरकार इलाके के लिए कोई भी नई योजना नहीं ला पाई है।


गोठवाल: सेमग्रस्त क्षेत्र में विगत कांग्रेस सरकार में ९६.३०० आरडी पर लगवाए गए पंपसैट के बिजली के बिल का ३० लाख रूपये का भुगतान बकाया पड़ा है, जिसका भुगतान आज तक भाजपा सरकार द्वारा नहीं किया गया है। यहां बर्ड सेंचुरी बनती तो सेम से आर्थिक रूप से टूट चुके किसानों के लिए रोजगार के अनेक नए मार्ग बनते।


गोठवाल: यह प्रश्न तो आप स्वयं से ही पूछिए। भाजपा शासन में ही कालीबंगा ने गांव में वाटरवर्क्स स्वीकृत करवाने के लिए आपका विरोध किया। मामला उछला तो आपने वाटरवर्क्स स्वीकृत कराया।


गोठवाल: मैडम, इस बात का पता तो आपको विधानसभा चुनाव में चलेगा, टिकट किसी को भी मिले सभी लोग एकजुट होकर उसका साथ देंगे। टिकट न मिलने पर निर्दलीय चुनाव लडऩा भाजपाईयों की परंपरा है। हमारी पार्टी में ऐसा नहीं होता।


गोठवाल: कांग्रेस देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी है। पार्टी व जनता द्वारा इसके चुने गए नुमाईंदों ने सदैव आम जनता के हितों को ही प्राथमिकता दी है। भाजपा की केंद्र सरकार तो देश के चंद औद्योगिक घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए देश की सवा सौ करोड़ जनता के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है।


गोठवाल: रावतसर में कांग्रेस कार्यकाल में बने ट्रोमा सेंटर में भी ताे आपने डाक्टर नहीं लगाए। पीलीबंगा में डाक्टर्स हैं, लेकिन अपनी प्राइवेट प्रेक्टिस में व्यस्त हैं। इसलिए मरीज परेशान हो रहे हैं।

X
द्रोपती- पिता बसपा से हैं और मैं भाजपा से। उन्हें मेरा भाजपा से जुड़ना पसंद नहीं, लेकिन मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..