• Home
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • आप कार्यकर्ताओं ने किया बैंक एजीएम का घेराव, किसानों की भूमि नीलामी का विरोध
--Advertisement--

आप कार्यकर्ताओं ने किया बैंक एजीएम का घेराव, किसानों की भूमि नीलामी का विरोध

हनुमानगढ़|आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने बुधवार को किसानों की भूमि नीलामी संबंधी समस्या को लेकर एसबीआई बैंक के...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:00 AM IST
हनुमानगढ़|आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने बुधवार को किसानों की भूमि नीलामी संबंधी समस्या को लेकर एसबीआई बैंक के एजीएम का घेराव कर रोष जताया। लघु किसानों की ओर से लिए गए ऋण वसूली के बदले उनकी जमीन नीलामी रोकने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में बताया कि बीमा कंपनियों की ओर से किसानों को फसल खराबे का क्लेम नहीं दिया जा रहा। इस बीच बैंक ने ऋण वसूली के लिए प्राइवेट एजेंसियों को ठेके देकर किसानों को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। बैंक अधिकारियों व कार्यकर्ताओं में बहस भी हुई। आप नेता सुरेंद्र बेनीवाल ने विरोध दर्ज करवाया तो बैंक अधिकारियों ने वार्ता का न्यौता दिया। वार्ता में एजीएम ने कहा कि बैंक के पास पर्याप्त स्टाफ नहीं होने के कारण प्राइवेट एजेंसियों को काम नियमानुसार दे रखा है। उन्होंने कहा कि अगर लघु किसानों की ऋण संबंधी अगर कोई जायज समस्या है तो वह व्यक्तिगत रूप से अवगत कराएं तो समस्या हल की जाएगी। किसानों की भूमि की नीलामी पर उन्होंने कहा कि कुछ प्रकरणों में बैंक अपने स्तर पर समझौता वार्ता के माध्यम से किसान हित में फैसला लेकर मूल राशि जमा करवा ली जाती है। राजस्व विभाग की ओर से राजस्व वसूली के कारण नीलामी की प्रक्रिया निरस्त होने के बावजूद भी बैंकों को बार-बार यह प्रक्रिया अपनानी पड़ती है। आप कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी कि राज्य सरकार एवं रिजर्व बैंक के निर्देशों की पालना में किसान के मौलिक अधिकारों का हनन सहन नहीं किया जाएगा। सुरेंद्र बेनीवाल ने कहा कि भूमि नीलामी प्रक्रिया में कोई दूसरा किसान शामिल नहीं हो इसके लिए किसानों को जागरूक किया जाएगा। इस मौके पर राजकुमार यादव, प्रभु पचार, सुभाष लोहरा ,श्याम यादव ,संजय कुमार ,भरत शाह ,महावीर स्वामी ,राकेश कुमार,राजेंद्र रेगर, बनवारी, पूनमचंद, विनोद, बीरबल आदि मौजूद थे।

चेेक अनादरण पर एक साल कैद व हर्जाना : (श्रीविजयनगर) मुंसिफ एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट ने चेक अनादरण के एक मामले में आरोपी को एक साल के साधारण कारावास की सजा सुनाई है। इसके साथ ही आरोपी को आदेश दिए हैं कि वह परिवादी को तीन लाख रुपए का भुगतान करे। परिवाद के अनुसार दल्लूराम सारस्वत निवासी वार्ड 8 से आरोपी रामचंद्र परिहार पुत्र भीखाराम निवासी 32जीबी ने 2.50 लाख रुपए उधार लिए थे।