पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ई-एफआईआर से घर बैठे दर्ज करवा सकेंगे रिपोर्ट

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वाहन चोरी की एफआईआर के लिए नागरिकों को पुलिस थानों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। इसके लिए अब घर बैठे पुलिस की ओर से ई-एफआईआर से घर बैठे एफआईआर दर्ज करा सकेंगे। यह एफआईआर वाहन चोरी के मामलों में ही दर्ज होगी। यदि कोई दूसरी घटना साथ में हुई है तो व्यक्ति को थाने रिपोर्ट देनी होगी।

इस सुविधा का दुरुपयोग करने वाले के खिलाफ आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश मुख्यालय की तरह जिला पुलिस की ओर से ऑनलाइन ई एफआईआर व लर्निंग पुलिस मेनेजमेंट सिस्टम की शुरूआत कर कर दी गई है। एसपी अनिल कयाल ने बताया कि वाहन चोरी की शिकायत दर्ज कराने के लिए ई-एफआईआर को क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रेकिंग एंड नेटवर्किंग सिस्टम से जोड़ा गया है। ई-एफआईआर अभियुक्त अज्ञात हो व घटना के दौरान चोट या बल प्रयोग नहीं होने की स्थिति में दर्ज कराई जा सकती है। एसएसओ आईडी से लॉगिन करके ई-एफआईआर दर्ज करा सकते है। यह सिस्टम राजधरा एप से भी एकीकृत है जिसमें सीमा के ज्ञान के बिना भी ई-एफआईआर दर्ज करवाई जा सकती है। सीसीटीएनएस सिटीजन पोर्टल पर यदि आपकी राजस्थान एसएसओ आईडी बनी हुई है तो लॉग इन करें और यदि नहीं तो पंजीकरण विकल्प का चयन कर राजस्थान एसएसओ आईडी बनाएं। लॉग इन के बाद पुलिस सिटीजन लिंक से ई-एफआईआर के विकल्प का चयन कर एफआईआर दर्ज करवा दें।

एसपी बोले- आमजन को राहत के लिए पुलिस तत्पर
एसपी अनिल कयाल का कहना है कि वाहन चोरी की वारदात के बाद आमजन को थाने जाने की परेशानी नहीं हो इसलिए ई-एफआईआर सुविधा शुरू की गई है। इससे आमजन को थाने के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। अभय कमांड सेंटर के बाद पुलिस का ऑनलाइन सुविधा की दिशा में बड़ा कदम है।

खबरें और भी हैं...