--Advertisement--

उड़ी फिल्म पूर्व विधायक के बेटे की है पहली फिल्म, 60 साल से राजनीति में है फैमली लेकिन बेटा बॉलीवुड में बनाना चाहता है करियर

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 03:35 PM IST

हनुमानगढ़ न्यूज: 7 दमदार डायलॉग, जो युवाओं में भर रहे जोश उन्हें कश्मीर चाहिए और हमें उनका सिर 

former mla Krishna Kadwa son dhairya debut film Uri Surgical Strike

हनुमानगढ़ (राजस्थान)। 18 सितंबर 2016 उड़ी, जम्मू कश्मीर, एलओसी के पास भारतीय सेना के हेड बेस कैंप पर कुछ आतंकवादियों ने हमला कर दिया था। इस हमले में हमारी सेना के 19 जवान शहीद हो गए थे। इसे देश की सेना पर होने वाला बड़ा हमला माना गया था। इसका जवाब इंडियन आर्मी ने पाकिस्तान में 'सर्जिकल स्ट्राइक' करके दिया था। इसी 'सर्जिकल स्ट्राइक' पर फिल्म बनी है, नाम है- 'उड़ी- द सर्जिकल स्ट्राइक'। इसमें खास बात है कि फिल्म में हनुमानगढ़ जिले के संगरिया इलाके के धैर्य कड़वा ने आर्मी ऑफिसर सरताज सिंह की भूमिका निभाई है। धैर्य पूर्व विधायक कृष्ण कड़वा के बेटे और हनुमानगढ़ विधायक चौ. विनोद कुमार का भतीजा है। फिल्म 11 जनवरी को देशभर में रिलीज हुई है।

स्कूल से पर्दे तक का यूं रहा धैर्य का सफर ... अकेला मुंबई गया, मेरे लिए ये रोल सबसे अहम


धैर्य ने बताया, ''मैंने स्कूली पढ़ाई घरवालों से दूर रहकर देहरादून में की। स्कूल के दिनों में फिल्म देख ऐसा शौक जागा कि मैं भी किसी दिन हीरो बनूंगा। स्कूल समय में उत्तराखंड राज्य की बॉस्केट बॉल का कैप्टन रहकर नेशनल खेल में भी भाग लिया। उसके बाद दिल्ली के श्रीराम कॉलेज में रहकर ग्रेज्युएशन की और मॉडलिंग का काम मिला। अच्छी कंपनियों के एड में भी काम किया। सीरियल के ऑफर आए। वहीं दिल्ली से मुंबई आना पड़ा। वहां तो कोई जान पहचान नहीं थी। सब कुछ नया था। खुद अकेले रहना। सुबह से शाम तक, कभी कभार रात तक भूखे प्यासे रहना पड़ा। रोज ऑडिशन दिया लेकिन कामयाबी नहीं मिली। भगवान और खुद की मेहनत पर भरोसा था कि एक दिन सफलता मिलेगी। एक दिन एक कॉल आई कि आप उड़ी फिल्म के लिए काम करोगे। तब खुशी का ठिकाना नहीं था। अब दूसरी फिल्म के लिए भी ऑफर हाथ में है, जल्द उसकी शूटिंग शुरू होगी।''


60 साल से धैर्य का परिवार है राजनीति में


धैर्य कड़वा का परिवार पिछले 60 से अधिक वर्षों से राजनीति क्षेत्र में है। धैर्य के दादा स्व. चौधरी आत्माराम लीलावाली विधायक व जिला प्रमुख रहे। उसके बाद पिता कृष्ण कड़वा संगरिया विधायक रहे। मां शैल कड़वा लीलावाली ग्राम पंचायत से सरपंच रही। ताऊजी चौधरी विनोद कुमार पूर्व में राज्य मंत्री रहे अब हनुमानगढ़ विधायक हैं। लेकिन धैर्य ने राजनीति क्षेत्र को छोड़ फिल्मी पर्दे पर उतरे हैं।


7 दमदार डायलॉग, जो युवाओं में भर रहे जोश उन्हें कश्मीर चाहिए और हमें उनका सिर


1- फर्ज और फर्जी में एक मात्रा का अंतर होता है। अगर मैं अपने देश और अपने भाइयों के लिए अब नहीं लड़ा तो अपनी नजरों में फर्जी बनकर रह जाऊंगा।
2- सर, आई प्रॉमिस यू, आप मुझे कहीं भी भेज दीजिए। मैं अपने हर एक सिपाही को जिंदा वापस लेकर आऊंगा।
3- पाकिस्तान जो भाषा समझता है, उसको उसी भाषा में जवाब देने का समय आ गया है... सर, सर्ज‍िकल स्ट्राइक।
4- ये हिंदुस्तान अब चुप नहीं बैठेगा, ये नया हिंदुस्तान है। ये घर में घुसेगा भी और मारेगा भी।
5- वक्त आ गया है खून का बदला खून से लेने का, इंड‍ियन आर्मी ने ये जंग शुरू नहीं की थी लेकिन हम खत्म करेंगे।
6- उन्हें कश्मीर चाहिए और हमें उनका सिर।
7- अपनी 72 हूरों को हमारा सलाम कहना, बोलना दावत पर हमारा इंतजार करें, आज बहुत सारे मेहमान भेजने वाले हैं।

X
former mla Krishna Kadwa son dhairya debut film Uri Surgical Strike
Astrology

Recommended

Click to listen..