• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
--Advertisement--

गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं

भास्कर संवाददाता, श्रीगंगानगर। गणेश चतुर्थी 13 सितंबर को मनाई जाएगी। शहर में इस बार स्थानीय व बाहरी कलाकारों की...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 04:25 AM IST
Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
भास्कर संवाददाता, श्रीगंगानगर।

गणेश चतुर्थी 13 सितंबर को मनाई जाएगी। शहर में इस बार स्थानीय व बाहरी कलाकारों की ओर से 5 हजार से ज्यादा मिट्टी के गणेश बनाए जा रहे हैं। भगवान श्री गणेश की स्थापना शहरभर के मंदिरों व गणेश मंडलों द्वारा की जाएगी। कारीगर एक माह से मूर्तियां बनाने में जुटे हुए हैं। मूर्तियों में 3 इंच से 4 फीट तक के गणेश शामिल हैं। खास बात यह है कि इन मूर्तियों को विसर्जित करने में दिक्कत नहीं होगी क्योंकि ये आसानी से पानी में घुल जाएंगी। इन पर वाटर कलर लगाया जा रहा है जो पानी में मिल जाता है। इस बार इतनी बड़ी संख्या में मिट्टी के गणेश बनाए जाने का कारण शहर के लोगों में दैनिक भास्कर के मिट्टी के गणेश काे लेकर जागरूकता बढ़ना है। कई जगहों पर छोटे-छोटे बच्चे भी भगवान गणेश की मिट्टी की प्रतिमाएं बना रहे हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो मिट्टी के इन गणेशों को बनाने के बाद दूसरों को देंगे। इससे जो आय होगी उसे सामाजिक कार्यों में लगाएंगे।

कलश यात्रा आज: खाटलबाना| गांव में गणेश महोत्सव के उपलक्ष में बुधवार को अपराह्न 3 बजे कलश यात्रा निकाली जाएगी। 16 सितंबर को विसर्जन होगा। पंडित विजय शर्मा के अनुसार रविवार को श्री गणेश महोत्सव का समापन समारोह में मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम होगा।

जागरण आज: घमंडिया| गांव 1जीएमडी (196हैड) पर हरीराम बाबा मंदिर पर 12 सितंबर को जागरण होगा। सेवादार रामप्रताप पंवार ने बताया कि बाबा का यह 11 वां जागरण है जो रात्रि सवा 9 बजे शुरू होगा। मारूति भजन मंडली चौहिलांवाली व गायक कलाकार सुरेंद्र शर्मा एंड पार्टी जागरण में बाबा का गुणगान कर सचेतन झांकियां सजाएंगे।

कारीगर एक महीने से 3 इंच से 4 फीट तक की मूर्तियां बना रहे

सामाजिक संस्थाएं गणेश प्रतिमाएं बना गो सेवा में करेंगी सहयोग

कोलकाता की मिट्टी से निर्मित प्रतिमाएं भी

हनुमानगढ़ रोड स्थित श्री गणेश अर्थन पॉट स्टोर के संचालक अनिल कुमार के अनुसार वे लंबे समय से मूर्तियां बना रहे हैं। अब वे मिट्टी की मूर्तियां ही बना रहे हैं। इस वर्ष 1 हजार से 1500 मूर्तियाें की बिक्री होने की संभावना है। कोलकाता की मिट्टी से निर्मित भगवान श्री गणेश की प्रतिमाएं भी श्रीगंगानगर लाई गई हैं।

आठ दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम का हवन यज्ञ के साथ समापन

सादुलशहर (आंचलिक)| गांव खाटसजवार की चौपाल में चल रहे 8 दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम का समापन मंगलवार को हवन-यज्ञ के साथ हुआ। इससे पूर्व कथावाचक विद्यासागर महाराज ने भगवान श्री कृष्ण की रासलीला, कंस वध, श्री कृष्ण विवाह, कृष्ण-सुदामा मिलन प्रसंग सुुनाया। उन्होंने कहा कि हवन-यज्ञ में आहूति देने वाले श्रद्धालुओं के घर में सुख-शांति एवं लक्ष्मी का वास होता है। इस बीच सचेतन झांकियां भी प्रदर्शित की गईं।

शहर की कुछ सामाजिक संस्थाएं भास्कर के अभियान से प्रेरित होकर मिट्टी के गणेश बना रही हैं। ये संस्थाएं एक महीने से प्रतिमाएं बनाने में जुटी हैं। इसमें कागज, मिट्टी व घासफूस के अलावा वाटर कलर का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। संस्थाओं द्वारा दानपात्र लगाए जाएंगे। जो लोग इन प्रतिमाओं को लेकर जाएंगे वे इन दानपात्रों में स्वेच्छा से राशि डालेंगे। इस राशि को सामाजिक व गो सेवा जैसे भलाई के कामों में लगाया जाएगा।

कहीं पालने में गणेश तो कहीं गरुड़ पर सवार

इस बार घरों व पंडालों में अलग-अलग प्रकार के भगवान श्री गणेश की प्रतिमाएं देखने को मिलेंगी। इसमें 4 फीट के गणेश झूले पर बैठे, कहीं गरुड़ पर सवार तो कहीं गणेश सिंहासन पर बैठे नजर आएंगे। इसके अलावा कई अन्य अवस्थाओं में भी कलाकार गणेश प्रतिमाओं को रूप देने में जुटे हुए हैं।

Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
X
Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
Hanumangarh - गणेश चतुर्थी, इस बार बन रहीं मिट्टी की 5 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..