• Home
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • पुरुषोत्तम मास में यज्ञ से गोलोक धाम की प्राप्ति : संत अखंडानंद
--Advertisement--

पुरुषोत्तम मास में यज्ञ से गोलोक धाम की प्राप्ति : संत अखंडानंद

हनुमानगढ़| सुंदरकांड मित्र मंडल की ओर से रविवार को गोशाला में यज्ञ कराया गया। निरंजनी अखाड़ा हरिद्वार से संत...

Danik Bhaskar | May 28, 2018, 03:05 AM IST
हनुमानगढ़| सुंदरकांड मित्र मंडल की ओर से रविवार को गोशाला में यज्ञ कराया गया। निरंजनी अखाड़ा हरिद्वार से संत अखंडानंद गिरी के सानिध्य में हुए यज्ञ में पुरुषोत्तम मास में स्वाति नक्षत्र के मौके पर आहुतियां दी गई। यज्ञ का संचालन पंडित विजय शर्मा, शिवरतन आचार्य व राजेश शास्त्री ने किया। संत ने कहा कि यह मास भगवान विष्णु को अत्यधिक प्रिय होने के कारण श्रीहरि ने इस मास को स्वयं का नाम अर्थात पुरुषोत्तम मास रखा था। मान्यता है कि इस मास में जो व्यक्ति तीर्थ स्नान, पूजन, यज्ञ अनुष्ठान, दान व हरि कथा का श्रवण करता है वह प्रभु के गोलोक धाम को प्राप्त करता है।