• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • मच्छरों पर रोकथाम नहीं बरतने पर स्वास्थ्य विभाग लगा सकता है जुर्माना
--Advertisement--

मच्छरों पर रोकथाम नहीं बरतने पर स्वास्थ्य विभाग लगा सकता है जुर्माना

खाली मटकों व टायरों में रखे पानी की सफाई रखने, कूलर में पानी की नियमित सफाई करने को लेकर स्वास्थ्य विभाग अब तक आमजन...

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 03:05 AM IST
खाली मटकों व टायरों में रखे पानी की सफाई रखने, कूलर में पानी की नियमित सफाई करने को लेकर स्वास्थ्य विभाग अब तक आमजन को जागरूक करने में जुटा था लेकिन अब लापरवाही बरतने वालों पर जुर्माना भी लग सकेगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया है। इसके तहत डेंगू, मलेरिया व स्वाइन फ्लू को सूचीबद्ध बीमारियों में शामिल कर लिया गया है। ऐसी बीमारियां गैर सरकारी चिकित्सा संस्थान, क्लिनिक व लैब में चिंहित होने पर इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को देना जरूरी होगा। सूचना नहीं देने पर आईपीसी के तहत जुर्माना लगाया जा सकेगा। सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार ने बताया कि राज्य सरकार ने राजस्थान एपिडेमिक अधिनियम 1957 के तहत डेंगू, मलेरिया व स्वाइन फ्लू को राज्य सरकार ने अधिसूचित कर नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। लैब, क्लिनिक या चिकित्सालय प्रबंधक बीमारियां चिंहित होने पर विभाग को सूचना नहीं देते हैं, तो आईपीसी की धारा 181 के तहत 500 रुपए तक का जुर्माना लगाया जा सकेगा। बीमारी की पुष्टि केवल एलाइजा किट से ही मानी जाएगी और इसके लिए निजी केंद्र ब्लड सैंपल चिकित्सालय में भेजेंगे। मलेरिया व डेंगू की जांच के लिए भारत सरकार की गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करना आवश्यक होगा। अब कोई भी लैब संचालक या चिकित्सा संस्थान किसी कार्ड आदि से जांच कर बीमारी की पुष्टि नहीं कर सकेगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..