• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • नप की सिफारिश; मालचंद पर चार्जशीट की जांच विचाराधीन, अनुभव से मेहंदीरत्ता आयुक्त के योग्य
--Advertisement--

नप की सिफारिश; मालचंद पर चार्जशीट की जांच विचाराधीन, अनुभव से मेहंदीरत्ता आयुक्त के योग्य

नगरपरिषद आयुक्त पद पर जूनियर अधिकारी को चार्ज दिए जाने की चुनौती के साथ वरिष्ठ लेखाधिकारी मालचंद शर्मा की याचिका...

Dainik Bhaskar

May 29, 2018, 03:50 AM IST
नप की सिफारिश; मालचंद पर चार्जशीट की जांच विचाराधीन, अनुभव से मेहंदीरत्ता आयुक्त के योग्य
नगरपरिषद आयुक्त पद पर जूनियर अधिकारी को चार्ज दिए जाने की चुनौती के साथ वरिष्ठ लेखाधिकारी मालचंद शर्मा की याचिका को लेकर सोमवार को डीएलबी की ओर से हाईकोर्ट जोधपुर में तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश की गई। हाईकोर्ट ने इस मामले में आगामी सुनवाई नौ जुलाई तय की है। डीएलबी की ओर से पेश तथ्यात्मक रिपोर्ट में बताया कि लेखाधिकारी मालचंद शर्मा के खिलाफ नगरपरिषद हनुमानगढ़ में अनियमित खांचा भूमि आवंटन में 16 सीसीए की चार्जशीट और इसी प्रकरण में एसीबी में केस दर्ज होने के बाद से जांच विचाराधीन है। इसके अतिरिक्त विभाग ने सेवाओं से निलंबित किया हुआ है जिस पर मालचंद शर्मा ने हाईकोर्ट से स्टे लिया हुआ है। विभागीय नियमानुसार इस तरह की जांच विचाराधीन होने पर कार्मिक को ऐसी कोई फील्ड पोस्टिंग नहीं दी जा सकती जोकि सीधी जनता से जुड़ी हो और न ही किसी भी तरह के रोकड़ का चार्ज दिया जा सकता है।

हाईकोर्ट ने आठ सितंबर को डीएलबी के आदेश पर दिया था स्टे

गत छह फरवरी को हाईकोर्ट ने मालचंद शर्मा की याचिका को स्वीकार करते हुए याचिका के विचाराधीन रहने तक लेखाधिकारी राकेश मेहंदीरत्ता को आयुक्त का चार्ज सौंपे जाने के गत आठ सितंबर को जारी डीएलबी के आदेश पर स्टे दे दिया था। इसके बाद राकेश मेहंदीरत्ता को आयुक्त की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी। मालचंद शर्मा ने आयुक्त पद पर जूनियर अधिकारी को लगाने के निर्णय को चुनौती देते हुए याचिका दायर की थी। इसमें गत दिनों हाईकोर्ट ने डीएलबी से आयुक्त की नियुक्ति आदेश से संबंधित मूल रिकॉर्ड पेश करने के आदेश दिए थे। इसमें डीएलबी की ओर से नियुक्ति को लेकर 60 पेज के साथ मूल रिकॉर्ड पेश किया था। इस बीच कार्य व्यवस्था के तौर पर कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम को आयुक्त का अतिरिक्त चार्ज सौंपा गया था। एक मई से न्याय आपके द्वार शिविरों के कारण आयुक्त का चार्ज एईएन राजेंद्र स्वामी को सौंप दिया गया था।

इन अधिकारियों के पास अतिरिक्त चार्ज, पद संभालने में असमर्थता जताई

मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केदारनाथ गुप्ता, सचिव महेश कुमार व राजस्व अधिकारी शिवराज कृष्णा, कर निर्धारक बहादुरसिंह ने स्वास्थ्य कारणों व कार्य की अधिकता के कारण आयुक्त का कार्यभार संभालने में असमर्थता व्यक्त की है। एईएन राजेंद्र स्वामी के पास एक्सईएन के तौर पर जिलेभर की नगर निकायों का अतिरिक्त चार्ज है। वहीं एईएन सुभाष बंसल के पास केंद्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के अलावा भादरा, नोहर, रावतसर नगरपालिकाओं का अतिरिक्त कार्यभार है और एईएन पुरुषोत्तम जैन का टाउन-जंक्शन में निर्माण कार्यों के अलावा श्रीगंगानगर जिले की सादुलशहर नगरपालिका का अतिरिक्त कार्यभार है। ऐसे में सभापति और उपनिदेशक क्षेत्रीय स्थानीय निकाय विभाग ने लेखाधिकारी राकेश मेहंदीरत्ता के विभिन्न नगरीय निकायों में ईओ और नगरपरिषद हनुमानगढ़ में आयुक्त के पद पर कार्य अनुभव के आधार पर आयुक्त का चार्ज सौंपने की अभिशंषा की है। जस्टिस अरूण भंसाली ने पेश रिपोर्ट की कॉपी याचिकाकर्ता को उपलब्ध कराने के आदेश दिए। अब इस मामले में आगामी सुनवाई पर सबकी नजर है। सोमवार को रिपोर्ट पेश करने के दौरान नगरपरिषद की ओर से एसडीएम सुरेंद्र पुरोहित और लेखाधिकारी राकेश मेहंदीरत्ता तथा याचिककर्ता मालचंद शर्मा व पार्षद गणेश बंसल हाईकोर्ट में मौजूद रहे।

X
नप की सिफारिश; मालचंद पर चार्जशीट की जांच विचाराधीन, अनुभव से मेहंदीरत्ता आयुक्त के योग्य
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..