• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • कलेक्टर ने कच्चे मकानों के सर्वे के दिए निर्देश, बोले-पीएम आवास योजना की दूसरी किस्त के प्रपोजल जल्द भिजवाएं
--Advertisement--

कलेक्टर ने कच्चे मकानों के सर्वे के दिए निर्देश, बोले-पीएम आवास योजना की दूसरी किस्त के प्रपोजल जल्द भिजवाएं

टाउन की पारीक कॉलोनी में आंधी-बारिश के कारण छत ढहने से दादी-पोतों की मौत के बाद प्रशासन हरकत में आया है। कलेक्टर ने...

Dainik Bhaskar

Jun 08, 2018, 03:50 AM IST
टाउन की पारीक कॉलोनी में आंधी-बारिश के कारण छत ढहने से दादी-पोतों की मौत के बाद प्रशासन हरकत में आया है। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर दूसरी किस्त के प्रपोजल समय पर भेजने के निर्देश देते हुए कहा कि टाउन में आंधी तूफान से गिरे कच्चे मकान में तीन लोगों की मौत नहीं होती अगर समय पर पक्का मकान बन जाता। प्रधानमंत्री आवास योजना के शहरी सर्वे को लेकर भी कलेक्टर ने निर्देश दिए कि कोई इसमें वंचित ना रहे। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके कार्यक्षेत्र में अगर कहीं कोई कच्चा मकान हैं तो ये देख लें कि उसकी छत ढालू हो ताकि बारिश में पानी छत पर इकट्ठा ना हो। छत में दोनों तरफ स्लोप हो। गुरुवार को जिले के सभी एसडीएम, बीडीओ और तहसीलदारों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में सरकार की योजनाओं का लाभ आमजन तक पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकार की विभिन्न फ्लैगशिप योजनाओं की क्रियान्विति समय पर हो और क्वालिटी के साथ हो ताकि आमजन को बड़ी राहत दी जा सके।

वीसी के माध्यम से जिले के एसडीएम, बीडीओ और तहसीलदारों को दिए निर्देश

हर गांव में वितरित हों मनरेगा मस्टरोल

कलेक्टर ने मनरेगा योजना को लेकर अधिकारियों को निर्देशित किया कि हर गांव में मस्टरोल वितरीत होने चाहिए। हालांकि जिले में अभी 50 हजार लेबर लगी हुई है कार्य भी अच्छा हो रहा है लेकिन इसकी मॉनिटरिंग लगातार रखें। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान में नोहर, भादरा और रावतसर में तय लक्ष्य के अनुरूप कार्य नहीं होने पर संबंधित तहसील के विकास अधिकारियों को समय पर और क्वालिटी के साथ कार्य पूरे करने के निर्देश दिए।

निर्माण कार्यों में क्वालिटी खराब मिले तो कार्रवाई करें

जिला कलक्टर ने एसडीएम, बीडीओ और तहसीलदारों को निर्देश दिए कि देखने में यह आ रहा है कि अगर किसी बुजुर्ग महिला की आयु ज्यादा हो गई है तो उसकी पेंशन नहीं बढ़ती, कई ग्राम पंचायतों में पालनहार योजना का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है। लिहाजा पेंशन मामलों में और पालनहार योजना को लेकर सभी अधिकारी देख लें कि संबंधित लोगों को इसका लाभ मिल पा रहा है या नहीं। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान में हो रहे कार्यों में क्वालिटी को लेकर आ रही शिकायतों को लेकर अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि अगर कहीं भी, किसी भी योजना के अंतर्गत कार्य हो रहा है और उसमें किसी प्रकार की घटिया सामग्री इत्यादि लगाने की शिकायत आती है तो तुरंत काम को रुकवाएं और चैक करें। अगर कहीं कार्य की क्वालिटी खराब मिले तो तुरंत कार्रवाई करें। वीसी में एडीएम प्रकाश चौधरी, सीईओ जिला परिषद गोपाल बिरदा, एसडीएम हनुमानगढ़ सुरेंद्र पुरोहित, एसीपी योगेंद्र कुमार, तहसीलदार सुभाष कड़वासरा आदि मौजूद थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..