Hindi News »Rajasthan »Hanumangarh» जिले में मध्यप्रदेश की पारदी गैंग सक्रिय, दिन में सामान बेचने के बहाने रैकी, रात को देते वारदात को अंजाम, अलर्ट हुई पुलिस

जिले में मध्यप्रदेश की पारदी गैंग सक्रिय, दिन में सामान बेचने के बहाने रैकी, रात को देते वारदात को अंजाम, अलर्ट हुई पुलिस

मध्यप्रदेश की पारदी गैंग इन दिनों जिले में सक्रिय हो रही है। इस गैंग ने संगरिया, पीलीबंगा और नोहर में चोरी की तीन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 15, 2018, 03:55 AM IST

जिले में मध्यप्रदेश की पारदी गैंग सक्रिय, दिन में सामान बेचने के बहाने रैकी, रात को देते वारदात को अंजाम, अलर्ट हुई पुलिस
मध्यप्रदेश की पारदी गैंग इन दिनों जिले में सक्रिय हो रही है। इस गैंग ने संगरिया, पीलीबंगा और नोहर में चोरी की तीन बड़ी वारदातों को अंजाम दिया है। संगरिया में भाजपा नेता के घर चोरी के बाद सीसीटीवी फुटेज से गैंग के सदस्यों की कद, काठी व वारदात के तरीके को समझने के बाद पुलिस अधिकारियों को इस गैंग के यहां सक्रिय होने का पता चला। खास बात है कि पारदी गैंग के सदस्य दिन में सामान बेचने के बहाने गली-मोहल्लों में रैकी करने आते हैं और रात्रि को वारदात को अंजाम देते हैं। गैंग की सक्रियता पर गंभीरता दिखाते हुए एसपी यादराम फांसल ने गुरुवार को क्राइम मीटिंग में इसको लेकर आवश्यक निर्देश दिए। आमजन को जागरूक कर गली-मोहल्लों, रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर संदिग्ध नजर आने पर तत्काल पुलिस को सूचित करने को कहा है। एसपी ने थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि अपराधियों पर नजर रखने के लिए गश्त को प्रभावी करें। इस मौके पर एसीजेएम आशा चौधरी, एएसपी हरीराम, भादरा एएसपी नरेंद्रसिंह मीणा, सीओ हनुमानगढ़ विरेंद्र जाखड़, सीओ एससी-एसटी भंवरलाल मेघवाल, संगरिया सीओ देवानंद, टाउन सीआई रामप्रताप बिश्नोई, महिला थाना सीआई प्रदीप चारण, जंक्शन सीआई राजेश सियाग, सदर एसएचओ जगदीश पांडर सहित जिलेभर के थानाप्रभारी मौजूद थे।

भास्कर अलर्ट

चना, चूड़ी या अन्य कोई सामान बेचने के लिए गली-मोहल्ले में अनजान पुरुष या महिला आए तो पूरी सावचेती बरतें।

ऐसे लोगों की बातों में नहीं आकर अपने परिवार और घर की बातें साझा नहीं करें।

सस्ती वस्तु देखकर किसी तरह के लालच में नहीं आएं और गतिविधि संदिग्ध होने पर तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम के नंबर 01552-261105 या संबंधित थाने के नंबर पर सूचित करें।

काफी खतरनाक है गैंग

पारदी गैंग मध्यप्रदेश की सबसे कुख्यात गैंग है। यह लोग जहां भी वारदात करने जाते हैं, वहां दिन में सामान बेचने के बहाने रैकी करते हैं और इसके बाद वारदात को अंजाम देते है। आधी रात के बाद यह गैंग मुंह ढंककर वारदात करती है। वारदात करने के लिए करीब पांच-छह लोग जाते हैं। यह इतनी खतरनाक है कि यदि वारदात करते समय घर में जाग हो जाए और इनको पकड़े जाने का खतरा हो तो व्यक्ति को जान से मार देते हैं। वारदात को अंजाम देने के बाद यह एक स्थान पर नहीं रुकते हैं।

संदिग्ध होने पर कंट्रोल रूम या संबंधित थाने के नंबर पर सूचित करें

हनुमानगढ़. क्राइम बैठक लेते एसपी यादराम फांसल व मौजूद अधिकारी।

संगरिया : चोरों को पकड़ने के लिए पुलिस ने 7 टीमें बनाई, एक हरियाणा और पंजाब भेजी

संगरिया| कस्बे के गुरुनानक नगर के वार्ड 23 स्थित भाजपा महिला मोर्चा जिला प्रवक्ता सुमन कस्वां और भाजपा नगर मंडल पूर्व महामंत्री विजेंद्र कस्वां के घर में बुधवार देर रात को पारदी गैंग ने धावा बोलकर तिजोरी सहित लाखों के सोने और चांदी के आभूषणों व नकदी पर हाथ साफ करने में दूसरे दिन तक पुलिस कोई खुलासा नहीं कर पाई और ना ही पुलिस को कोई ठोस सुराग हाथ लगा है। हालांकि पुलिस दावा कर रही है कि इस घटना का शीघ्र खुलासा किया जाएगा। डीएसपी देवानंद ने बताया कि पुलिस सक्रिय रूप से लगी हुई है। श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ पुलिस इस मामले में करीब सात टीमें बनाकर आपसी तालमेल के साथ काम कर रही हैं। उन्होंने बताया कि पीलीबंगा एसएचओ को बुलाकर यहां की वारदात से अवगत करवाया गया है ताकि पीलीबंगा और संगरिया की वारदातों में कोई सामान रूप से कोई बात सामने आ सके। पदमपुर एसएचओ को यहां के सीसीटीवी फुटेज भेजे गए हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Hanumangarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: जिले में मध्यप्रदेश की पारदी गैंग सक्रिय, दिन में सामान बेचने के बहाने रैकी, रात को देते वारदात को अंजाम, अलर्ट हुई पुलिस
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Hanumangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×