• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
--Advertisement--

साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप

सीबीएसई 12वीं का परीक्षा परिणाम शनिवार को घोषित हुआ। खास बात यह रही दो दिन पहले 12वीं माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के आए...

Dainik Bhaskar

May 27, 2018, 04:00 AM IST
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
सीबीएसई 12वीं का परीक्षा परिणाम शनिवार को घोषित हुआ। खास बात यह रही दो दिन पहले 12वीं माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के आए रिजल्ट में बेटियों ने गिरते रिजल्ट को संभाला था वहीं इस परिणाम में भी बेटियां ही टॉप रही हैं। जिले में साइंस संकाय में नोहर के अपाला स्कूल ऑफ एजुकेशन की छात्रा प्राची अग्रवाल पुत्री जयप्रकाश अग्रवाल ने 96. 04 प्रतिशत अंक हासिल कर जिले में टॉप स्थान हासिल किया है। इसी तरह आर्ट्स संकाय में टाउन के एसआरएम स्कूल दो छात्राओं ने एक जैसे प्रतिशत हासिल किए हैं। इसमें गरिमा पुत्री पृथ्वीराज शर्मा और प्रियल चौधरी पुत्री काशीराम ने 97.80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। जबकि कॉमर्स संकाय में भी इसी स्कूल की रिद्‌म चलाना पुत्री राजेश चलाना ने 95.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले में टॉप स्थान पाया है। जिले में सीबीएसई के कुल 16 स्कूल हैं, जिनमें करीब 1 हजार बच्चों ने परीक्षा दी थी। इनमें हनुमानगढ़, नोहर, भादरा, संगरिया, पीलीबंगा और पल्लू के सीबीएसई स्कूल शामिल है। स्कूलों में छुटिट्यों के चलते स्टूडेंट्स की भीड़ तो नजर नहीं आई लेकिन फिर भी कई इंस्टीट्यूट और स्कूल स्टाफ बच्चों के अच्छे रिजल्ट को लेकर खुशी मनाते नजर आए। घरों में परिजनों के साथ खुशियां मनाई गई। हालांकि अभिभावकों और परिजन सुबह से ही रिजल्ट का इंतजार कर रहे थे। परिणाम के अनुसार तीनों संकायों में जिले के बच्चों ने अपना दबदबा कायम रखा है। हालांकि सीबीएसई की कोई वरीयता घोषित नहीं होती।

सफलता की खुशी

रिजल्ट आने के बाद खुशी मनाते टॉपर स्टूडेंट्स।

भास्कर संवाददाता| हनुमानगढ़

सीबीएसई 12वीं का परीक्षा परिणाम शनिवार को घोषित हुआ। खास बात यह रही दो दिन पहले 12वीं माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के आए रिजल्ट में बेटियों ने गिरते रिजल्ट को संभाला था वहीं इस परिणाम में भी बेटियां ही टॉप रही हैं। जिले में साइंस संकाय में नोहर के अपाला स्कूल ऑफ एजुकेशन की छात्रा प्राची अग्रवाल पुत्री जयप्रकाश अग्रवाल ने 96. 04 प्रतिशत अंक हासिल कर जिले में टॉप स्थान हासिल किया है। इसी तरह आर्ट्स संकाय में टाउन के एसआरएम स्कूल दो छात्राओं ने एक जैसे प्रतिशत हासिल किए हैं। इसमें गरिमा पुत्री पृथ्वीराज शर्मा और प्रियल चौधरी पुत्री काशीराम ने 97.80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। जबकि कॉमर्स संकाय में भी इसी स्कूल की रिद्‌म चलाना पुत्री राजेश चलाना ने 95.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले में टॉप स्थान पाया है। जिले में सीबीएसई के कुल 16 स्कूल हैं, जिनमें करीब 1 हजार बच्चों ने परीक्षा दी थी। इनमें हनुमानगढ़, नोहर, भादरा, संगरिया, पीलीबंगा और पल्लू के सीबीएसई स्कूल शामिल है। स्कूलों में छुटिट्यों के चलते स्टूडेंट्स की भीड़ तो नजर नहीं आई लेकिन फिर भी कई इंस्टीट्यूट और स्कूल स्टाफ बच्चों के अच्छे रिजल्ट को लेकर खुशी मनाते नजर आए। घरों में परिजनों के साथ खुशियां मनाई गई। हालांकि अभिभावकों और परिजन सुबह से ही रिजल्ट का इंतजार कर रहे थे। परिणाम के अनुसार तीनों संकायों में जिले के बच्चों ने अपना दबदबा कायम रखा है। हालांकि सीबीएसई की कोई वरीयता घोषित नहीं होती।

भास्कर एनालिसिस

टॉपर्स का सफलता प्रतिशत पिछले वर्ष से दो से तीन प्रतिशत बढ़ा

पिछले वर्ष तीनों संकाय में टॉपर्स के प्रतिशत 95 प्रतिशत तक थे जो इस बार बढ़े हैं। पिछले वर्ष की अपेक्षा कला संकाय में पिछले साल टॉपर्स 95.60 प्रतिशत तक थे, जो इस बार बढ़कर 97. 80 प्रतिशत पहुंच गए हैं। इसी तरह साइंस में भी टॉपर्स 95 प्रतिशत तक के थे जो अब 96.04 प्रतिशत तक हो गए हैं तो कॉमर्स में भी टॉपर्स का प्रतिशत 95.8 प्रतिशत रहा है जो पिछले साल से अधिक है।

रिद्‌म चलाना, कॉमर्स (95.80%)

कोई शॉर्टकट नहीं अपनाया, पढ़ाई तो की ही, नियमित अभ्यास भी किया, सपना कैट पास करना

मैं मेरी सफलता का श्रेय टीचर्स को देना चाहती हूं। उन्हीं की प्रेरणा से मेरा यह परिणाम आया है। रिदम ने बताया कि भले ही कम पढ़े लेकिन जितना पढ़े वह पूरे ध्यान से और गहनता से पढ़े तो कोई भी मंजिल कठिन नहीं है। मेरा लक्ष्य कैट पास करना है। पिता राजेश चलाना और माता सीमारानी बताते हैं कि बेटी का ध्यान हमेशा पढ़ाई में ही रहा। परिवार ने भी पढ़ाई को लेकर पूरी मदद की। रिदम का मानना है कि सफलता कोई शॉर्टकट नहीं होता बल्कि पढ़ाई करने वाला खुद अपने रास्ते बना लेता है।

टॉपर्स ने कहा- एकाग्रता और कड़ी मेहनत से मिलता है लक्ष्य

गरिमा शर्मा, आट्‌र्स (97.80%)

टॉप आने की लगन ऐसी समारोह उत्सव में जाना ही बंद किया

एकाग्रता और नियमित पढ़ाई के अलावा चार से पांच घंटे अतिरिक्त पढ़ती थी। यह कहना है कि गरिमा शर्मा का। गरिमा अब आईएएस बनकर देश सेवा करना चाहती है। पढ़ाई में कड़ी मेहनत करें तो कोई भी लक्ष्य मुश्किल नहीं है। पिता पृथ्वी शर्मा बताते हैं कि बेटी की पढ़ाई के प्रति ऐसी रुचि थी कि वह अपनी मां से लड़ने लगती कि पढ़ाई करनी है कोई फंक्शन में नहीं जाएंगे।

प्रार्ची, साइंस

(96.04%)

नोहर के अपाला स्कूल की छात्रा प्राची का रिजल्ट आते ही घर में मिठाई बंटी। परिजनों ने खुशी मनाई। प्राची ने बताया कि स्कूल समय में पढ़ने के अलावा घर आकर नियमित चार घंटे पढाई करने से ही यह सफलता प्राप्त हुई है। वह चाहती है कि डॉक्टर बनकर गरीब लोगों की सेवा करे। वह इसकी तैयारी में अभी से लगी हैं। उसने बताया कि अगर आत्मविश्वास हो तो कोई भी लक्ष्य पाया जा सकता है। कम घंटे पढ़े लेकिन पूरी तैयारी करके ही परीक्षा दें तो परिणाम सार्थक आएंगे। पिता जयप्रकाश और माता निशा देवी ने बताया कि इसकी रुचि अन्य क्षेत्रों में भी है लेकिन पढ़ाई के प्रति गहरी लगन है।

केवल चार घंटे पढ़ी, लेकिन पूरे मन से अध्ययन किया, अब टॉपर

प्रियल चौधरी, आर्ट्स (97.80%)

घर का माहौल ऐसा सब केवल पढ़ाई व प्रशासनिक सेवा की ही बातें करते हैं

घर का माहौल ऐसा मिला कि हर समय पढ़ाई की ही बातें होती हैं। यह कहना है प्रियल का। वह बताती हैं कि उनके ताऊ ओपी सहारण प्रशासनिक सेवा के रिटायर्ड अधिकारी रहे हैं। मैंने हमेशा उन्हीं को आदर्श माना है। उनके बताए मार्ग पर ही चली। इसी कारण से पीछे नहीं रही। वहीं पिता काशीराम और माता सुमन भी टीचर हैं। इसलिए पढ़ाई को लेकर हमेशा तैयार रही। प्रियल भी भारतीय प्रशासनिक सेवा में जाना चाहती है।

साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
X
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
साइंस में प्राची, आर्ट्स में गरिमा व प्रियल और कॉमर्स में रिद्‌म रही टॉप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..