Hindi News »Rajasthan »Hanumangarh» दो माह से खाली पड़ा ग्राम विकास अधिकारी का पद, आमजन परेशान, कामकाज ठप

दो माह से खाली पड़ा ग्राम विकास अधिकारी का पद, आमजन परेशान, कामकाज ठप

लिखमीसर| पीलीबंगा पंचायत समिति की लिखमीसर पंचायत में दो माह से ग्राम विकास अधिकारी का पद खाली पड़ा है। ऐसे में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 05, 2018, 04:00 AM IST

लिखमीसर| पीलीबंगा पंचायत समिति की लिखमीसर पंचायत में दो माह से ग्राम विकास अधिकारी का पद खाली पड़ा है। ऐसे में पंचायत में विकास कार्य ठप पड़े हैं। इतना ही नहीं समस्या को लेकर सरपंच तथा ग्रामीणों ने कलेक्टर, प्रधान तथा बीडीओ तक को अवगत करवा दिया है परंतु आज तक किसी के कान पर जूं तक नहीं रेंगी है। ग्रामीण सतपाल ज्याणी, सचिन खीचड़, विनोद सैन व राजदीपसिंह सिद्धू ने बताया कि पंचायत में किसी भी कार्य के लिए जाते हैं तो वहां ताला लटका रहता है। सरपंच मीरादेवी परिहार ने बताया कि समस्या को लेकर उच्च अधिकारियों को कई बार अवगत करवाया जा चुका है इसके बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ऐसे में पंचायत में पिछले दो माह से कोई काम नहीं हो रहा है।

पालना करवाने में अधिकारी भी बेबस: वहीं इस पंचायत के कार्य को फौरी तौर पर संचालित करने के लिए आसपास की पंचायतों से सचिव तथा कनिष्ठ लिपिकों को भी अतिरिक्त चार्ज दे देने के बाद उन्होंने उच्च अधिकारियों के आदेशों की पालना करना मुनासिब नहीं समझा है। बीडीओ के निर्देश के बाद भी वे इस पंचायत में काम करने से परहेज कर रहे है। ऐसे में ग्रामीणों ने शीघ्र ही पंचायत में आगामी सप्ताह में ग्राम विकास अधिकारी, कनिष्ठ लिपिक तथा सहायक सचिव की नियुक्ति नहीं की तो वे पंचायत के आगे धरना लगाने पर मजबूर होंगे। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए बीडीओ से जानकारी चाही गई तो उनका सरकारी मोबाइल हमेशा की तरह स्विच ऑफ बोल रहा था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Hanumangarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दो माह से खाली पड़ा ग्राम विकास अधिकारी का पद, आमजन परेशान, कामकाज ठप
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Hanumangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×