• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • जिला जेल में एक माह में तीसरी कार्रवाई, अब हत्या के प्रयास के बंदी से मिला मोबाइल-सिम
--Advertisement--

जिला जेल में एक माह में तीसरी कार्रवाई, अब हत्या के प्रयास के बंदी से मिला मोबाइल-सिम

जिला जेल में गुरुवार को एक और बंदी पास मोबाइल व सिम बरामद हुआ। एक माह में यह तीसरा मामला है जब बंदी के पास मोबाइल है।...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 04:00 AM IST
जिला जेल में गुरुवार को एक और बंदी पास मोबाइल व सिम बरामद हुआ। एक माह में यह तीसरा मामला है जब बंदी के पास मोबाइल है। हैरानी की बात है कि बार-बार कार्रवाई के बाद भी जेल में निरंतर मोबाइल मिल रहे हैं। ऐसे में जेल स्टाफ की भूमिका भी संदेह के दायरे में हैं। गुरुवार को एक बंदी से मोबाइल व सिम मिलने के मामले में जंक्शन पुलिस ने केस दर्ज किया है। जेल प्रहरी गजेंद्र कुमार बलाई ने पुलिस को बताया कि जेल की बैरक नंबर दो की तलाशी ली तो हत्या प्रयास मामले में गत 19 सितंबर 2017 से जेल में बंद रवि कुमार पुत्र अर्जुनदास अरोड़ा निवासी वार्ड 22 टाउन के कब्जे से एक मोबाइल व एक सिम मिली। पुलिस ने इस संबंध में कारागृह संशोधन अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। मामले की जांच एसआई जगदीश प्रसाद को सौंपी गई है। गौरतलब है कि पिछले माह जेल निदेशालय और पुलिस की संयुक्त तलाशी में पुलिस को कई मोबाइल मिले थे। इसके बाद जेलर और एक अन्य सिपाही का यहां से तबादला कर दिया गया था। वहीं तीन बंदियों को दूसरी जेलों में शिफ्ट कर दिया गया था।

पहले भी मिले बंदियों से मोबाइल

6 मई 2018- जिला जेल में सर्च ऑपरेशन के दौरान 20 मोबाइल मिले थे। इसमें 17 मोबाइल कैदियों और तीन मोबाइल लावारिस मिले थे। इस मामले में 17 बंदियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। वहीं जेलर व एक सिपाही का तबादला कर तीन बंदियों की जेल बदली गई थी।

9 जून 2018-जिला जेल में बैरक संख्या आठ की तलाशी में टिब्बी में हत्या के एक मामले में जेल में बंद प्रमोद कुमार पुत्र राजेंद्र कुमार शर्मा निवासी पोहड़का थाना ऐलनाबाद जिला सिरसा के कब्जे से दो मोबाइल व तीन सिम बरामद हुईं थीं। वहीं एक बिना सिम का मोबाइल बैरक में लावारिस मिला था।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..