• Home
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • मंडी में फल-सब्जी की आवक सामान्य, गंगमूल को अब भी दूध नहीं दे रहे किसान, आज से गांवों में नाके लगाएंगे किसान
--Advertisement--

मंडी में फल-सब्जी की आवक सामान्य, गंगमूल को अब भी दूध नहीं दे रहे किसान, आज से गांवों में नाके लगाएंगे किसान

किसान आंदोलन के तहत छिटपुट जगह दूध व सब्जी ले जाने वाले लोगों के रोकने की घटनाओं को छोड़ दिया जाए तो स्थितियां कुछ हद...

Danik Bhaskar | Jun 06, 2018, 04:05 AM IST
किसान आंदोलन के तहत छिटपुट जगह दूध व सब्जी ले जाने वाले लोगों के रोकने की घटनाओं को छोड़ दिया जाए तो स्थितियां कुछ हद तक सामान्य होती दिख रही हैं। मंगलवार को सब्जी मंडी में स्थानीय स्तर की सब्जियों के अलावा बाहर से भी फल और सब्जियां पहुंचे। उधर, दूध व्यवसायियों ने भी पुलिस की मदद लेना शुरू कर दिया है। हालांकि गंगमूल डेयरी में मंगलवार को भी दूध की आवक शून्य ही रही। डेयरी की ओर से बचे हुए स्टॉक को टाउन व जंक्शन में उपलब्ध करवाया गया है। इस सबके बीच बुधवार से आंदोलन की रूपरेखा में भी बदलाव देखने को मिल सकता है। जानकारी के मुताबिक दिल्ली में किसान संगठनों की बैठक के दौरान आंदोलन को गांवों तक ही सीमित रखने का निर्णय लिया गया है। अब किसान संगठनों की ओर से ग्रामीण क्षेत्र में किसानों को ही सब्जी व दूध नहीं बेचने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसके बाद मुख्य सड़कों पर नाकाबंदी व वाहनों का रोकने का सिलसिला बंद हो सकता है। किसान संगठनों की ओर से गांव में दूध या सब्जी लेने के लिए आने वाले लोगों को भी परेशान नहीं करने की बात कही गई है। किसान नेताओं के मुताबिक आंदोलन की रूपरेखा सभी गांवों तक पहुंचा दी जाएगी और बुधवार से तय रणनीति के अनुसार ही आंदोलन चलाया जाएगा ताकि इसका विरोध न हो।

आज मंदसौर में शहीद हुए किसानों को दी जाएगी श्रद्धांजली

गांव रोडांवाली में किसानों का धरना मंगलवार को जारी रहा। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता डॉ. सौरभ राठौड़ ने बताया कि बुधवार को मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में हुए किसान आंदोलन के दौरान शहीद हुए छह किसानों को श्रद्धांजली दी जाएगी।

(विस्तृत खबर पेज 14 पर)