• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • अब तक और आगे वितरित किए जाने वाले पानी की गुणवत्ता रिपोर्ट अदालत में पेश की जाए: न्यायाधीश
--Advertisement--

अब तक और आगे वितरित किए जाने वाले पानी की गुणवत्ता रिपोर्ट अदालत में पेश की जाए: न्यायाधीश

संगरिया| शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में प्रदूषित पानी की सप्लाई के मामले में अदालत ने प्रतिदिन वितरित किए गए और...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 04:20 AM IST
संगरिया| शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में प्रदूषित पानी की सप्लाई के मामले में अदालत ने प्रतिदिन वितरित किए गए और वितरित किए जाने वाले पानी की गुणवत्ता की रिपोर्ट अदालत में प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। मामले की सुनवाई करते हुए वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश और अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजेश गजरा ने यह आदेश दिया। सुनवाई के समय अदालत में राज्य सरकार, कलेक्टर, उपखंड अधिकारी, जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग तथा जल संसाधन विभाग की ओर से अपर लोक अभियोजक सुनील पांडे उपस्थित हुए। इस पर न्यायाधीश ने आदेश दिया कि आगामी तारीख पेशी पर अभियंता श्रेणी का कोई अफसर समस्त तथ्यों सहित न्यायालय में स्वयं उपस्थित होना चाहिए। न्यायाधीश ने यह भी आदेश दिया कि प्रकरण में आगे बढ़ने से पूर्व यह आवश्यक है कि दिन-प्रतिदिन वितरित किए गए तथा वितरित किए जाने वाले पानी की गुणवत्ता रिपोर्ट न्यायालय में पेश करें। अदालत मे इस मामले में आगामी सुनवाई 18 जून को होगी।

सिविल जज के समक्ष पेश किया था वाद : उपभोक्ता संरक्षण समिति के अध्यक्ष संजय आर्य और एडवोकेट दीपू रानी ने वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश के समक्ष वाद प्रस्तुत कर क्षेत्र में विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से निर्धारित मापदंडों तथा मेडिकल साइंस के मानकों के अनुरूप स्वच्छ पेयजल नागरिकों को उपलब्ध कराने के आदेश देने की गुहार लगाई थी। वाद में कलेक्टर हनुमानगढ़ के जरिए राजस्थान सरकार, उपखंड अधिकारी संगरिया, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग संगरिया, विभाग के संगरिया स्थित सहायक अभियंता तथा जल संसाधन विभाग संगरिया के सहायक अभियंता को प्रतिवादी बनाया गया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..