हनुमानगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप
--Advertisement--

ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप

ग्रामीण डाक सेवकों के आंदोलन के चलते जिले के ग्रामीण पोस्ट ऑफिस जहां दस दिन से बंद हैं वहीं बुधवार को बैंक...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 04:35 AM IST
ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप
ग्रामीण डाक सेवकों के आंदोलन के चलते जिले के ग्रामीण पोस्ट ऑफिस जहां दस दिन से बंद हैं वहीं बुधवार को बैंक कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से बैंक शाखाओं पर भी ताले गए। ऐसे में न तो पोस्ट ऑफिसों से जुड़े लोगों में सूचनाओं का अदान-प्रदान हो रहा है और न ही लोग पैसों का लेनदेन कर पा रहे हैं। दोनों ही सेवाओं का हाल बिगड़ा हुआ है वहीं प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाएगी तब तक यह प्रदर्शन यूं ही जारी रहेंगे।

भादरा| ग्रामीण डाक सेवकों की अनिश्चितकालीन धरना मंगलवार को 8वें दिन भी जारी रहा। धरनार्थियों ने कहा कि जब तक सातवें वेतन कमलेश चंद्र आयोग की रिपोर्ट लागू नहीं होती तब तक केंद्र सरकार के विरुद्ध हड़ताल व धरना प्रदर्शन जारी रहेगा। धरने पर रामस्वरूप अजीतपुरा, भागीरथ अनूपशहर, राकेश भाडी, लीलूराम भांगवा, चिरंजीलाल भनाई, सुभाषचंद्र भानगढ़, राजेन्द्र भोजासर, शिशराम डोबी, फिरोज गांधी, ओमप्रकाश करनपुरा, पूजा उतरादाबास, सुभाषचंद्र स्वामी, पवन शर्मा आदि बैठे।

आमजन से जुड़े दो विभागों के कर्मियों का आंदोलन

ग्रामीण डाक सेवक| धूप में एक टांग पर खड़े हो प्रदर्शन किया

सातवें वेतन आयोग की शर्तें लागू करने और कमलेशचंद्र कमेटी अनुसार समझौते को लागू करने सहित विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार को 10वें दिन ग्रामीण डाक सेवक जंक्शन मुख्य डाकघर के आगे धरने पर बैठे। उन्होंने कड़ी धूप में एक टांग पर खड़े होकर प्रदर्शन किया।

असर: 80 प्रतिशत काम हो रहा प्रभावित| डाक वितरण, स्पीड पोस्ट, रजिस्ट्री, वीपी पार्सल, बीमा प्रीमियम, एटीएम कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, बीमा कंपनियों के नोटिस आदि काम प्रभावित। कुल टारगेट में से 80 प्रतिशत डाक सेवक संभालते हैं। जिले में 250 डाक पोस्ट ऑफिस बंद हैं, 300 से ज्यादा कर्मी हड़ताल पर हैं।

कर्मियों की पीड़ा: लीलांवाली के डाक सेवक पूर्णसिंह, सतीपुरा के जयप्रकाश, रामसिंह भुल्लर आदि का कहना है कि उनकी वेतन वृद्धि नहीं की जा रही। जबकि राज्य सरकार के कर्मचारियों की तनख्वाह दोगुनी हो चुकी है। अतिरिक्त काम करवाया जा रहा है।

वेतन वृद्धि की है मांग, डाक कर्मी 10 दिन से और बैंक कर्मी आज भी रहेंगे हड़ताल पर

बैंककर्मी| धूप में फर्श पर बैठे, जूते पीट-पीट जताया विरोध

वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर सरकारी बैंक के अधिकारी-कर्मचारियों ने बुधवार को बैंकों में कामकाज ठप किया। बैंक कर्मचारियों ने नारेबाजी कर जूते पीट-पीट कर प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि वेतन बढ़ोत्तरी नहीं कर कुठाराघात किया है। यह हड़ताल गुरुवार को भी जारी रहेगी।

असर: एक दिन में करोड़ों का काम प्रभावित चेक क्लीयरिंग नहीं होने से प्रतिदिन करोड़ों रुपयों का काम प्रभावित होगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री जन-धन योजना, बीमा, फसल बीमा, आधार कार्ड सहित रुपयों से जुड़े काम के लिए आमजन को परेशानी होगी। जिले में 200 से अधिक बैंक बंद हैं। चार ऑफिसर्स और 6 कर्मचारी यूनियन हड़ताल पर हैं।

कर्मियों की पीड़ा: यूनाईटेड फॉर्म ऑफ बैंक यूनियन के जिला कनवीनर डीके शर्मा और दिनेश कौशिक ने बताया कि सारे काम बैंकों के मार्फत होते हैं लेकिन वेतनवृद्धि मात्र 2 प्रतिशत ही हुई। 1 नवंबर 2017 को हुआ समझौता आज तक लागू नहीं किया गया।

ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप
X
ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप
ग्रामीण डाक सेवकों के बाद अब बैंक कर्मी भी हड़ताल पर, डाक वितरण व्यवस्था फेल, बैंकों में लेनदेन ठप
Click to listen..