• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • कोटकपूरा के सट्टाकिंग ने हनुमानगढ़ श्रीगंगानगर जिले में फैलाया नेटवर्क रुपयों का हिसाब करने के लिए होटल में आया तो तीन एजेंटों सहित पकड़ा गया
--Advertisement--

कोटकपूरा के सट्टाकिंग ने हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिले में फैलाया नेटवर्क रुपयों का हिसाब करने के लिए होटल में आया तो तीन एजेंटों सहित पकड़ा गया

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 04:35 AM IST

Hanumangarh News - हनुमानगढ़| गैंगस्टरों की तरह अब सट्टाकिंग भी हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिलों में नेटवर्क फैलाने लगे हैं। इंटर स्टेट...

कोटकपूरा के सट्टाकिंग ने हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिले में फैलाया नेटवर्क रुपयों का हिसाब करने के लिए होटल में आया तो तीन एजेंटों सहित पकड़ा गया
हनुमानगढ़| गैंगस्टरों की तरह अब सट्टाकिंग भी हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिलों में नेटवर्क फैलाने लगे हैं। इंटर स्टेट पुलिस समन्वय बैठक के बाद हरकत में आई पुलिस ने बुधवार दोपहर को जंक्शन के एक होटल से पंजाब के कोटकपूरा जिले के सट्टाकिंग सहित चार सटोरियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों के कब्जे से 38500 रुपए नगदी, 10 मोबाइल दो चार्जर और करीब 55 लाख रुपए का सट्टे का हिसाब-किताब व एक कार जब्त की गई है। सीआई राजेश सियाग ने बताया कि एसआई चंद्रभान और हैड कांस्टेबल सरजीत सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि जंक्शन स्थित होटल सम्राट में कमरा किराए पर लेकर पंजाब के सटोरिए नेटवर्क चला रहे हैं। सूचना के आधार पर एसपी से सर्च वारंट लेकर होटल के कमरा नंबर 104 पर दबिश दी गई। यहां पर हरीश(32) पुत्र मदनलाल अरोड़ा निवासी वार्ड दस जैतों चुग्गी जिला कोटकपूरा पंजाब, सन्नी बवेजा (30) पुत्र प्रेम कुमार निवासी मलकीत सिंह कॉलोनी जंक्शन, राजेश बवेजा उर्फ राजू (28) पुत्र ओमप्रकाश निवासी दून स्कूल के पास सुरेशिया जंक्शन, भूप गोस्वामी (32) पुत्र कालूराम निवासी सतीपुरा सट्टे का हिसाब-किताब करते धरे गए। तलाशी के दौरान यहां से सट्टे का हिसाब-किताब और नगदी जब्त कर पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर कर लिया। आरोपी सट्टाकिंग हरीश बवेजा की स्विफ्ट कार में ही आरोपियों को बैठाकर थाने ले जाया गया। गौरतलब है कि बुधवार को इंटर स्टेट पुलिस समन्वय बैठक में अफसरों ने होटलों व हॉस्टलों की जांच के लिए भी कहा था।

38500 रुपए नगदी और 55 लाख रुपए का हिसाब-किताब मिला, कार जब्त

दोनों जिलों के कई एजेंटों का हिसाब-किताब मिला, वाट्सएप पर ही एजेंटों से लेता था सट्टे का पर्चा : प्रारंभिक जांच में पता चला कि पंजाब का सट्टाकिंग दोनों जिलों में अपने एजेंटों का नेटवर्क फैला रहा था। जब्त मोबाइलों से श्रीगंगानगर, लालगढ़, करणपुर, मिर्जेवाला के अलावा हनुमानगढ़ जिले की विभिन्न कस्बों के सट्टा एजेंटों का हिसाब-किताब मिला है। खास बात है कि सट्टे का यह नेटवर्क वाट्सएप के माध्यम से ही चल रहा है। इसमें सट्टे का हिसाब-किताब तैयार कर वाट्सएप पर यहां के एजेंट सट्टाकिंग को भेजते और वह आगे दिल्ली या अन्य शहरों में फॉरवर्ड कर देता था। बताया जा रहा है कि सट्टाकिंग यहां पर आठ-दस दिन बाद एजेंटों से हिसाब करने आता था। होटल में कमरा किराए पर लेकर यहां पर एजेंटों को बुलाकर रुपयों का लेनदेन होता था।

X
कोटकपूरा के सट्टाकिंग ने हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिले में फैलाया नेटवर्क रुपयों का हिसाब करने के लिए होटल में आया तो तीन एजेंटों सहित पकड़ा गया
Astrology

Recommended

Click to listen..