• Home
  • Rajasthan News
  • Hanumangarh News
  • भारत बंद के दौरान प्रदर्शन करने वाले लोगों पर किए मुकदमे की निष्पक्ष जांच और दुकानदारों के खिलाफ केस की मांग
--Advertisement--

भारत बंद के दौरान प्रदर्शन करने वाले लोगों पर किए मुकदमे की निष्पक्ष जांच और दुकानदारों के खिलाफ केस की मांग

पीलीबंगा| विगत 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान प्रदर्शन कर रहे दलित समाज के लोगों पर कुछ दुकानदारों द्वारा करवाए गए...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 04:50 AM IST
पीलीबंगा| विगत 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान प्रदर्शन कर रहे दलित समाज के लोगों पर कुछ दुकानदारों द्वारा करवाए गए मुकदमे की निष्पक्ष जांच करवाने व कार्यकर्ताओं तथा बाबा साहेब अंबेडकर के विरुद्ध अपमानजनक शब्द बोलने वाले इन दुकानदारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की मांग करते हुए सोमवार को दलित शोषण मुक्ति मंच के कार्यकर्ताओं द्वारा पुलिस थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने उक्त मांग को लेकर एसपी के नाम का एक ज्ञापन थाना प्रभारी विष्णु खत्री को सौंपते हुए उनकी मांग पूरी न होने पर 23 अप्रैल से थाने के समक्ष अनिश्चितकालीन आमरण अनशन प्रारंभ करने की चेतावनी दी। यहां पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए मंच के जिला संयोजक मनीराम मेघवाल, मेवाराम कालवा, माकपा तहसील सचिव कमला मेघवाल, शेर सिंह, बद्रीप्रसाद आदि ने बताया कि बंद के दौरान दुकानदार राकेश कड़वासरा, राकेश भांभू, विनोद बेनीवाल सहित अन्य 15-20 जनों ने बंद करवा रहे दलित समाज के लोगों के साथ मारपीट करते हुए उन्हें जातिसूचक गालियां निकालीं और उनके ही खिलाफ थाने में झूठा मुकदमा दर्ज करवा दिया। पुलिस को अवगत करवाए जाने के बाद भी उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। उन्होंने बताया कि जब तब उनकी यह मांग पुलिस प्रशासन द्वारा नहीं मानी जाती तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा।