• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • Hanumangarh News rajasthan news bio medical west workshop from tying biobags to weight explain how to upload online from mobile with weight

बायो मेडिकल वेस्ट कार्यशाला : बायोबैग को बांधने से लेकर वजन के साथ मोबाइल से ऑनलाइन अपलोड करने के तरीके समझाए

Hanumangarh News - जिला अस्पताल के टीटीसी सेंटर में हुई कार्यशाला में क्यूआर कोडिंग सिस्टम के तहत बायोबैग को बांधकर रखने से लेकर...

May 18, 2019, 08:06 AM IST
जिला अस्पताल के टीटीसी सेंटर में हुई कार्यशाला में क्यूआर कोडिंग सिस्टम के तहत बायोबैग को बांधकर रखने से लेकर मशीन पर वजन करने और मोबाइल से ऑनलाइन अपलोड करने की बारीकियां बताई गईं। अस्पताल के सभी वार्ड इंचार्ज को इसके लिए जिम्मेदारी तय करते हुए कहा कि अगर क्यूआर कोड का टैग एक-दूसरे को नहीं दे सकेंगे। जो क्यूआर कोड जिस वार्ड को इश्यू हुआ है उसका उसी वार्ड के बायोबैग पर ही इस्तेमाल करना होगा। इस मौके पर नर्सिंग अधीक्षक ने चुटकी लेते हुए कहा कि फिर तो यह टैग सोने की तरह कीमती है और इसका उसी तरह ध्यान रखना होगा तो कार्यशाला में मौजूद स्टाफ की हंसी छूट गई। इस पर ट्रेनर ने कहा कि इसमें थोड़ी सी चूक भी जिम्मेदार को सजा दिला सकती है। उन्होंने इसको गंभीरता से लेने पर बल दिया। इस मौके पर पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा, सीएमएचओ डॉ.अरूण चमड़िया, नोडल अधिकारी डॉ. शंकर सोनी, उपनियंत्रक डॉ. हरिओम बंसल, नर्सिंग अधीक्षक सुनील बहल, जयराम दास, जगन अरोड़ा, सुरेंद्र सहू, विजयलक्ष्मी, श्रवण चायल, सरजीत कुमार, मनजीत कुमार, राकेश कुमार, वेदप्रकाश, मनीराम सैनी, राजेंद्र स्वामी, सुनील कुमार, रविंद्र यादव, नीरज कोशल, ई-टेक प्रतिनिधि कविंद्र खन्ना, जयपाल पुरोहित, नवदीप खन्ना, धर्मेंद्र एवं सफाई ठेकेदार व सफाई कर्मचारी मौजूद थे।

क्यूआर कोड प्रणाली के यह होंगे तीन बड़े फायदे

1. बायोमेडिकल वेस्ट के दुरूपयोग पर नियंत्रण-बायोवेस्ट के दुरूपयोग की अक्सर शिकायतें मिलती हैं। बायोवेस्ट का वजन होने से उसमें से कांच, प्लास्टिक या अन्य आइटम निकाल बेचने पर भी रोक लग सकेगी। ऑनलाइन मॉनिटरिंग से गड़बड़ी पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई संभव होगी।

2. बायोमेडिकल वेस्ट का सुरक्षित व सुचारू निस्तारण- बॉयोमेडिकल वेस्ट का सुरक्षित और सुचारू तरीके से निस्तारण हो सकेगा। बायोमेडिकल वेस्ट की सूचना प्रतिदिन ऑनलाइन अपलोड की जाएगी।

3. स्वास्थ्य पर नहीं पड़ेगा प्रभाव- आमजन एवं कर्मचारियों को गंभीर संक्रमण व जानलेवा बीमारियों का खतरा कम होगा। वहीं पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना