• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • Hanumangarh News rajasthan news consumer protection committee will approach the court on the issue of irrigation with dirty water in sangria

संगरिया में गंदे पानी से सिंचाई के मुद्दे पर अदालत का दरवाजा खटखटाएगी उपभोक्ता संरक्षण समिति

Hanumangarh News - भास्कर संवाददाता|संगरिया आंचलिक संगरिया शहर के गंदे पानी से खेतों में फसलों और सब्जियों मेंं सिंचाई के मामले...

Dec 04, 2019, 09:35 AM IST
भास्कर संवाददाता|संगरिया आंचलिक

संगरिया शहर के गंदे पानी से खेतों में फसलों और सब्जियों मेंं सिंचाई के मामले में उपभोक्ता संरक्षण समिति न्यायालय का दरवाजा खटखटाएगी। समिति ने गंदे पानी से सिंचाई कर फसलें और सब्जियां उगाने के कारण जन स्वास्थ्य पर मंडरा रहे खतरे को भांपते हुए यह निर्णय किया है। उपभोक्ता संरक्षण समिति के अध्यक्ष एडवोकेट संजय आर्य ने बताया कि 3 मई 2014 को राजस्थान हाई कोर्ट ने गंदे पानी से सब्जियां उगाने के विरोध में जो फैसला दिया था, उसका उद्देश्य जनता की सेहत से हो रहे खिलवाड़ को रोकना था। संगरिया की नगर पालिका ने इस फैसले का सम्मान करते हुए गंदे पानी का ठेका छोड़ना बंद कर दिया, यह अच्छी बात है लेकिन ऐसा करने से हाईकोर्ट का वह उद्देश्य पूरा नहीं हुआ है। आर्य ने कहा कि हाईकोर्ट ने गंदे पानी से सब्जियां उगाने पर प्रतिबंध इसलिए लगाया था, ताकि जनता को बीमारियों से बचाया जा सके। संगरिया में यह उद्देश्य पूरा नहीं हो पाया है, क्योंकि जहां पहले गंदा पानी केवल सब्जियां उगाने में प्रयोग मेें लाया जाता था, वह बाद में खेतों में सिंचाई के लिए भी प्रयुक्त किया जाने लगा है। पिछले चार-पांच साल से नगर पालिका गंदे पानी को खेतों तक पहुंचा रही है, यह चिंता का विषय है। दरअसल, नगर पालिका को गंदे पानी के निस्तारण के लिए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट समेत विभिन्न प्रभावी विकल्प तलाशने चाहिए थे, जो कि नहीं तलाशे गए हैं। यह जनता के स्वास्थ्य के साथ सीधे तौर पर खिलवाड़ है।

उन्होंने बताया कि अब जनता के हित में एक मात्र विकल्प न्यायालय की शरण लेना ही रह जाता है। समिति जल्द ही न्यायालय में एक लोकहित वाद पेश करेगी, जिसमें नगर पालिका के गंदा पानी खेतों में छोड़ने पर रोक लगाने और वैकल्पिक व्यवस्था करने के लिए पाबंद करने की गुहार लगाई जाएगी। बता दें, गदें पानी से हो रही सिंचाई के मामले को दैनिक भास्कर ने दो दिसम्बर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

भास्कर ने उठाया था मामला

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना