जिले के सबसे बड़े सरकारी कॉलेज में लेक्चरर के आधे पद खाली, पढ़ाई हो रही खराब

Hanumangarh News - जिले के सबसे बड़े राजकीय एनएम पीजी कॉलेज में सरकारीकरण के बाद अभी भी आधे से ज्यादा पद रिक्त चल रहे हैं। कॉलेज में...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:25 AM IST
Hanumangarh News - rajasthan news half of the lecturer vacancies in government39s largest government college vacant poor education
जिले के सबसे बड़े राजकीय एनएम पीजी कॉलेज में सरकारीकरण के बाद अभी भी आधे से ज्यादा पद रिक्त चल रहे हैं। कॉलेज में पांच हजार से अधिक विद्यार्थियों की संख्या है। हैरानी की बात यह है कि कॉलेज में प्रिंसिपल का भी पद खाली है। एडमिशन की प्रक्रिया के साथ नया सेशन भी शुरू हो चुका है लेकिन अभी तक स्टाफ की कमी दूर नहीं हो पाई है। कॉलेज में प्रिंसीपल के साथ ही फिजिक्स, हिन्दी साहित्य, कॉमर्स, इतिहास जैसे प्रमुख विषयों के व्याख्याताओं और लाइब्रेरियन के पद भी रिक्त चल रहे हैं। ख़ास बात यह है कि 15 जुलाई 2010 को इस कॉलेज का सरकारीकरण हुआ था एवं वर्ष 2013 से व्याख्याताओं के पद खाली चल रहे हैं। जिले के सबसे बडे़ इस कॉलेज में दूर दराज के गांवों से अच्छी शिक्षा की आस में विद्यार्थी कॉलेज में एडमिशन लेते हैं। कॉलेज में होने वाले कार्यक्रमों में भी हर बार रिक्त पदों और आवश्यक संसाधनों को लेकर मांगें उठती है, लेकिन हर बार सिर्फ आश्वासन ही मिलते हैं।

असर: प्राइवेट कॉलेजों में जा रहे विद्यार्थी, आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थी सबसे ज्यादा परेशान

ये असर पड़ रहे है- कॉलेज में व्याख्याताओं की कमी के चलते विद्यार्थियों को निजी संस्थानों का रुख करना पड़ता है। ऐसे में विद्यार्थियों को भारी शुल्क देकर निजी संस्थानों में पढ़ाई करनी पड़ती है। कॉमर्स एवं बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में स्कोप अच्छा है लेकिन व्याख्याता नहीं होने के कारण विद्यार्थी इस विषय का चयन नहीं करते। वहीं आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को शिक्षा से वंचित रहना पड़ रहा है।

कॉलेज में स्टाफ कि कमी चिंता का विषय है। इससे बच्चों की पढ़ाई तो खराब होती है साथ में कॉलेज व्यवस्था भी बिगड़ती है। हालांकि व्याख्याताओं की कमी के बारे में स्थानीय विधायक को अवगत करवाया जा चुका है। उन्होंने समस्या निवारण का आश्वासन दिया था। बीएन पारीक, उपप्राचार्य एवं कार्यवाहक प्राचार्य

लंबे अर्से से कॉमर्स और साइंस फैकल्टी की मांग के बावजूद सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही। इस संबंध में छात्र संगठनों ने व्याख्याताओं की मांग को लेकर कई बार आंदोलन किए। अब फिर से इसी मुद्दे को लेकर संघर्ष किया जाएगा। महेंद्र शर्मा, छात्रसंघ अध्यक्ष, एसएफआई।

लाइब्रेरियन, पीटीआई सहित प्रिंसिपल का पद भी रिक्त

राजकीय एनएम पीजी कॉलेज में कुल 35 व्याख्याताओं के पद हैं। इनमें से वाइस प्रिंसिपल के पद सहित 18 पद भरे हुए हैं और 18 पद खाली हैं। प्रिंसिपल, लाइब्रेरियन और पीटीआई का पद मौजूदा समय में रिक्त है।

विषय स्वीकृत रिक्त

केमिस्ट्री 3 0

बोटनी 2 0

जूलॉजी 2 1

मैथ 2 1

फिजिक्स 3 2

एबीएसटी 3 2

बिजनेस एड. 2 2

इकोनोमिक्स एड. 2 1

हिस्ट्री 3 2

पोलिटिकल साइंस 3 2

हिंदी 3 2

इंग्लिश 2 1

इकोनोमिक्स 3 2

सोशियोलॉजी 1 0

होम साइंस 1 0

X
Hanumangarh News - rajasthan news half of the lecturer vacancies in government39s largest government college vacant poor education
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना