• Hindi News
  • Rajasthan
  • Hanumangarh
  • Pilibanga News rajasthan news international childhood cancer day cancer spreading in children due to use of pasticides and polluted environment

इंटरनेशनल चाइल्डहुड कैंसर डे; पेस्टीसाइड्स के प्रयोग व प्रदूषित वातावरण से फैल रहा बच्चों में कैंसर

Hanumangarh News - रिपोर्ट के अनुसार बच्चों में खून की कमी से हर पांच में से एक बच्चा एनीमिया का शिकार स्कूलों में पढ़ने वाले...

Feb 15, 2020, 10:50 AM IST
Pilibanga News - rajasthan news international childhood cancer day cancer spreading in children due to use of pasticides and polluted environment

रिपोर्ट के अनुसार बच्चों में खून की कमी से हर पांच में से एक बच्चा एनीमिया का शिकार


स्कूलों में पढ़ने वाले अधिकांश बच्चे एनीमिया से पीड़ित हैं। यह कहा जा सकता है कि सरकारी स्कूल में 5 में से 1 बच्चा एनीमिक है। इसका खुलासा स्वास्थ्य विभाग की जांच रिपोर्ट में हुआ। रिपोर्ट के बाद ऐसे बच्चों को आयरन की गोलियां भी वितरित की गई थी। सीएमएचओ डॉ. अरुण चमड़िया ने बताया कि ऐसे बच्चों को आयरन की गोलियां वितरित की जा रही है। इसके अलावा माता-पिता को भी हिदायत दी गई है कि बच्चों को पौष्टिक आहार खिलाएं। चिकित्सकों का कहना है बच्चों में खून की कमी के चलते यह रोग हो सकता है। इसके लिए खासतौर से बच्चे की मां में हीमोग्लोबिन की कमी उत्तरदायी रहती है। गर्भावस्था के दौरान जिन महिलाओं में सात से नौ ग्राम हीमोग्लोबिन की मात्रा रहती है, उनके बच्चों में खून की कमी सामान्यतया पाई जाती है। एनीमिया से पीड़ित होने के बाद बच्चों में रक्त कैंसर हो सकता है।

यह खबर भास्कर के आग्रह पर शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. नवरतन शर्मा ने लिखी

बच्चों में बढ़ रही है कैंसर की बीमारी...खून की कमी के कारण बच्चों में ब्लड कैंसर की बीमारी बढ़ रही है जो चिंताजनक है। समय रहते इसका उपचार करवाया जाए तो ब्लड कैंसर से पीड़ित बच्चों की जिंदगी बचाई जा सकती है। गर्भावस्था के दौरान महिला में दस से 13 ग्राम हीमोग्लोबिन होना चाहिए। अगर कम हीमोग्लोबिन है तो नवजात बच्चे के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

ये हैं कैंसर के लक्षण, सचेत रहें... {शरीर के किसी भी हिस्से में गांठ व न भरने वाले घाव {असामान्य रूप से खून का बहते रहना {भोजन निगलने में कठिनाई {आवाज में परिवर्तन या चबाने में दिक्कत होती है {लंबे समय से खून की कमी {सांस चढ़ने की बीमारी।

बचाव के तरीके... {खून की कमी होते ही जांच करवाएं {नशीले पदार्थों का सेवन न करें {शरीर में कहीं गिल्टी या गांठ होने का एहसास हो तो तुरंत चिकित्सक से जांच करवाएं {लगातार खांसी आने पर छाती का एक्स-रे अवश्य करवाएं।

हनुमानगढ़| पेस्टीसाइड्स के अंधाधुंध प्रयोग एवं पानी सहित ऐसे कई कारण हैं जिनसे हमारे जिले में कैंसर रोगी बढ़ रहे हैं। वर्तमान में आलम यह है कि यह बीमारी अब छोटे बच्चों को भी अपने चंगुल में ले रही है। जिंदगी की उड़ान भरने के लिए तैयारी से पहले ही इन बच्चों को जानलेवा कैंसर हमला कर देता है। एक िरसर्च के अनुसार बच्चों में 30 प्रतिशत ब्लड का कैंसर, 8 प्रतिशत लिम्फ नोड कैंसर, 26 प्रतिशत दिमाग एवं तंत्रिका तंत्र का कैंसर एवं बाकि शरीर के विभिन्न अंगों का कैंसर देखा जाता है। कुछ ऐसे केस भी हैं जिनमें डीएनए की वजह से भी कैंसर होता है। यहां तक की कभी कभी मां के गर्भ में पल रहे बच्चे को भी कैंसर हो जाता है। पिछले 1 वर्ष में राजकीय जिला अस्पताल में (ब्लड कैंसर) के ऐसे करीब बीस रोगी पहुंच चुके हैं, जिनकी उम्र 15 वर्ष से अधिक नहीं है। इस उम्र के बच्चों को ऐसी बीमारी से ग्रसित होने की जानकारी देते हुए जहां डॉक्टर्स का गला भर आता है, वहीं परिजनों के लिए भी यह असहनीय है।

X
Pilibanga News - rajasthan news international childhood cancer day cancer spreading in children due to use of pasticides and polluted environment
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना