पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Nohar News Rajasthan News Major Negligence Of The Department Erosion Of 50 Feet In Raisinghpura Minor Farmers Demanded Compensation

विभाग की बड़ी लापरवाही, रायसिंहपुरा माइनर में अाया 50 फुट का कटाव, किसानाें ने की मुअावजे की मांग

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नोहर| रासलाना वितरिका नहर में सी-ग्रुप का रेगुलेशन नहीं होने के बावजूद बिना किसी सूचना के सिंचाई पानी छोड़ने का खामियाजा किसानों को उठाना पड़ा। रासलाना वितरिका में वर्तमान में एक ग्रुप का रेगुलेशन निर्धारित है। इसके तहत भादरा क्षेत्र के गांवों में सिंचाई पानी छोड़ा जाना था, मगर बिना किसी सूचना के सी-ग्रुप में पानी छोड़ दिया गया। इस कारण रायसिंहपुरा माइनर में करीब 50 फुट का कटाव आ गया। कटाव के कारण किसान यशवीर भोभिया की दो बीघा में खड़ी फसल खराब हो गई। कटाव की सूचना मिलने पर किसान मौके पर जमा हो गए। किसान संघर्ष समिति टेल रासलाना वितरिका के अध्यक्ष कृष्णलाल सहारण ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सूचना दी। कृष्णलाल सहारण ने बताया कि सिंचाई अधिकारियों को भी पानी छोड़े जाने की जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि किसानाें अपने स्तर पर कटाव भरने का प्रयास किया। विभाग के एईएन ने केवल मौके पर आकर कर्त्तव्याें की इतिश्री कर ली, जबकि कटाव को भरने का कोई प्रयास नहीं किया गया। कृष्णलाल सहारण ने बताया कि संपूर्ण मामले की जानकारी जिला कलेक्टर को दी गई है। उधर अनेक किसानों ने मांग की कि कटाव आने से खराब हुई गेहूं की फसल का मुआवजा किसान को दिया जाए। बिना सूचना पानी छोड़ने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। किसानों ने बताया कि सी-ग्रुप में रेगुलेशन व पानी की आवश्यकता होने पर अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं करते। सिंचाई पानी चोरी की लगातार घटनाएं होने से टेल के किसानों को सिंचाई पानी नहीं मिल पाता।
खबरें और भी हैं...