मर्डर की अफवाह से धानमंडी में तनाव की स्थिति, जांच में धान चोरी में मारपीट का निकला मामला

Hanumangarh News - टाउन धानमंडी में मंगलवार को एक मजदूर के मर्डर की अफवाह से तनाव की स्थिति बन गई। पुलिस मौके पर पहुंच जांच-पड़ताल के...

Nov 27, 2019, 08:11 AM IST
Hanumangarh News - rajasthan news tension in dhanmondi due to rumor of murder investigation of paddy theft case
टाउन धानमंडी में मंगलवार को एक मजदूर के मर्डर की अफवाह से तनाव की स्थिति बन गई। पुलिस मौके पर पहुंच जांच-पड़ताल के लिए कुछ लोगों को थाने ले गई तो पूछताछ में मामला धान चोरी में मारपीट का निकला। समझाइश के बाद दोनों पक्षों में राजीनामा से मामला देर शाम को निपट गया। इस संबंध में थाना में कोई केस दर्ज नहीं हुआ। हालांकि इसके बाद पीड़ित किसान सुखविंद्र सिंह और भाजपा नेता कविंद्र सिंह शेखावत ने टाउन पुलिस पर इस मामले में रिश्वत लेने के आरोप लगाते हुए एसपी से मामले की निष्पक्ष जांच की गुहार लगाई। किसान सुखविंद्र का आरोप है कि चोरों ने उसका धान चोरी करना स्वीकार किया जिसका उसके पास वीडियो भी है लेकिन पुलिस ने चोरों की पैरवी करते हुए उसका माल वापस चोरों को ही दिला दिया और 70 हजार रुपए की रिश्वत ले ली। धानमंडी में फर्म लखीराम हंसराज पर किसान सुखविंद्र धान की फसल लेकर आया था। पिड़ पर पड़ी ढेरी से धान चोरी होने की आशंका पर उसने मजदूरों से पड़ताल की तो चोरी होने की बात सामने आई। इस पर संबंधित व्यापारी ने मजदूरों के भुगतान में कटौती और चुराया गया धान वापस दिलाने की बात पर किसान से राजीनामा किया लेकिन बाद में मजदूरों से मारपीट हो गई। मारपीट में दो-तीन जनों के चोटें आने के बीच मंगलवार सुबह किसी ने यह अफवाह फैला दी कि एक मजदूर का मर्डर हो गया। इस पर टाउन सीआई नंदराम भादू मौके पर पहुंचे लेकिन उससे पहले श्रमिक यूनियनों के नेता सहित कई लोग मौके पर इकट्ठे हो गए। सीओ अंतर सिंह श्योराण ने भी मौके पर पहुंच घटनाक्रम की जानकारी ली। जानकारी जुटाई तो अस्पताल में कोई भर्ती नहीं होने की बात सामने आई। श्रमिकों ने मजदूरों को ढूंढ़कर लाने का कहते हुए हंगामा करने लगे। इस पर पुलिस संबंधित व्यापारी के अलावा चार-पांच मजदूरों को थाने ले गई। थाने में श्रमिक यूनियन की ओर से व्यापारी की ओर से मजदूरों पर चोरी के बदले लगाई 21 हजार की पैनल्टी नहीं लगाने, 11 मजदूरों की मजदूरी का भुगतान कराने और झार के तौर पर इकट्ठा किया धान वापस दिलाने आदि मांगें रखीं जिस पर सहमति बनने पर लिखित में राजीनामा किया गया। इस मौके पर फूडग्रेन अध्यक्ष जिनेंद्र जैन बेबी, व्यापारी नेता घनश्याम भादू, जगपाल सिंह के अलावा श्रमिक यूनियन की तरफ से माकपा नेता रघुवीर वर्मा, सुरेंद्र शर्मा, बहादुर सिंह आदि मौजूद थे।

टाउन सीआई नंदराम भादू का कहना है कि रिश्वत लेकर राजीनामा कराने का आरोप निराधार है। मजदूरों से मारपीट हुई थी जिस पर मजदूरों को पैनल्टी नहीं लगाने और झार का धान वापस दिलाने का निर्णय दोनों पक्षों की वार्ता में हुआ। जांच में सच्चाई सामने आ जाएगी।

भाजपा नेता कविंद्र सिंह शेखावत का कहना है कि चोर सामने आने पर भी पुलिस ने रिश्वत लेकर राजीनामा करा दिया। साहूकार किसान को घंटों तक थाने में बैठा प्रताड़ित किया गया। यह कहां का न्याय है। मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

X
Hanumangarh News - rajasthan news tension in dhanmondi due to rumor of murder investigation of paddy theft case
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना