कायाकल्प टीम ने सरकारी अस्पताल का काम देखा, संतोषजनक बताया

Hanumangarh News - कायाकल्प योजना के तहत मंगलवार को सरकारी अस्पताल का हनुमानगढ़ से आई असेसर टीम के नर्सिंग सुपरिटेंडेंट सुनीलकुमार...

Dec 04, 2019, 09:31 AM IST
कायाकल्प योजना के तहत मंगलवार को सरकारी अस्पताल का हनुमानगढ़ से आई असेसर टीम के नर्सिंग सुपरिटेंडेंट सुनीलकुमार बहल व अरबन प्रोजेक्ट मैनेजर जितेंद्रसिंह राठौड़ ने असेसमेंट किया। टीम ने अस्पताल की सभी सुविधाओं को विभिन्न बिंदुओं के आधार पर जांचा। टीम ने अस्पताल परिसर, डॉक्टर्स रूम, एक्स-रे रूम, जच्चा-बच्चा, भर्ती मरीज वार्ड, दवा विंडों, पर्ची काउंटर, ड्यूटी कक्ष, लेबोरेटरी, भामाशाह बीमा एंट्री कक्ष व ऑपरेशन थिएटर का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं-सुविधाएं देखी। साथ ही मौजूद स्टाफ से बातचीत कर जानकारी हासिल की। असेसर बहल ने अस्पताल की व्यवस्थाओं व सुविधाओं को संतोषजनक बताया। उन्होंने कहा कि अस्पताल को मिलने वाले अंकों के आधार पर रिपोर्ट तैयार कर शासन को भिजवाई जाएगी। इसके बाद राज्य स्तरीय टीम निरीक्षण करेगी। असेसमेंट से पूर्व अस्पताल में व्यवस्थाओं की सर्जरी चली। इसके तहत स्टाफ अस्पताल परिसर व वार्डों में कमियों को दूर करने में लगा रहा।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन क्वालिटी एश्योरेंस व कायाकल्प के तहत उत्कृष्ट चिकित्सा व्यवस्था व रखरखाव की कसौटी पर खरा उतरने वाले अस्पतालों को विभिन्न स्तरों पर सम्मानित किया जाता है। इसके लिए अलग-अलग स्तर की टीमें विभिन्न चरणों में अस्पतालों का असेसमेंट कर मार्किंग देती है।

पुरस्कार के लिए अस्पताल के रख-रखाव, सफाई व्यवस्था, स्वच्छ शौचालय आदि आधार पर चयन

असेसर बहल व राठौड़ ने बताया कि पुरस्कार के लिए अस्पताल के रख-रखाव, सफाई व्यवस्था, स्वच्छ शौचालय, हाईजिन प्रमोशन, बायोमेडिकल वेस्ट के समुचित निस्तारण-प्रबंधन, संक्रमण नियंत्रण, वार्ड लैब व ऑपरेशन थिएटर में चिकित्सकीय और नर्सिंग की उत्तम गुणवत्तायुक्त सेवाओं के आधार पर अस्पताल का चयन किया जाता है। जिला, राज्य व अन्य स्तर की टीमें निर्धारित बिंदुओं के आधार पर अस्पताल को नंबर देती हैं। नंबरों के आधार पर राष्ट्रीय स्तरीय उच्चाधिकारियों की कमेटी मॉनिटरिंग कर रैंकिंग देती है। इसी आधार पर पुरस्कार के लिए अस्पताल का चयन किया जाता है। राज्य व राष्ट्र स्तर पर ये उपलब्धि हासिल करने के लिए मरीजों को हर समय चिकित्सीय व नर्सिंग सेवा उपलब्ध करवाने के सार्थक प्रयासों के साथ-साथ स्टॉफ की भी भूमिका अहम होती है।

सरकारी अस्पताल का असेसमेंट करते असेसर।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना