Hindi News »Rajasthan »Itawah» किसान सभा की तहसील कार्यकारिणी की बैठक

किसान सभा की तहसील कार्यकारिणी की बैठक

इटावा. किसान सभा की बैठक को संबोधित करते पदाधिकारी। इटावा । कृषि उपज मंडी किसान भवन में किसान सभा की नई तहसील...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 09, 2018, 03:05 AM IST

इटावा. किसान सभा की बैठक को संबोधित करते पदाधिकारी।

इटावा । कृषि उपज मंडी किसान भवन में किसान सभा की नई तहसील कार्यकारिणी की बैठक जिलाध्यक्ष दुलीचंद बोरदा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में सभी तहसील कमेटी के पदाधिकारियों का चुनाव किया गया।

जिसमें तहसील अध्यक्ष लक्ष्मीनारायण मीणा, तहसील सचिव कमल बागड़ी, उपाध्यक्ष सीताराम मीणा लक्ष्मीपुरा, परमानंद सुमन बोरदा, भवानी शंकर कुशवाहा बालूपा, सत्यनारायण मीणा मूंगेना, सह सचिव नगेंद्र नायक अयानी, मांगीलाल नागर जोरावरपुरा, रामहरि मीणा गुवाडी, घनश्याम जांगिड़ नीमसरा, लेखराज मीणा बिजावता, कोषाध्यक्ष महेंद्र कुमार सुमन, सह कोषाध्यक्ष कालूलाल बैरवा निमोला, आमंत्रित सदस्य राधेश्याम परालिया, मा.फजर मोहम्मद, गुलाबचंद मीणा, प्रहलाद मीणा, केदार लाल मीणा, बालमुकुंद नागर सहित 21 सदस्य कमेटी का चुनाव सर्वसम्मति से किया गया। बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष दुलीचंद बोरदा ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकारें किसानों के साथ छलावा कर किसानों को लुटवाने का काम कर रही हैं, लेकिन अब देश का किसान जाग चुका है और 191 किसानों के संगठन एक मंच पर आकर संघर्ष में उतर चुके हैं जो इन किसान विरोधी सरकारों को सबक सिखाने की आर पार की तैयारी कर रहा है। अध्यक्ष लक्ष्मीनारायण मीणा ने कहा कि हमारी राज्य सरकार किसान हित में हुए सितंबर 2017 के समझौते को लागू करने से मुकर रही है जिसको लेकर किसानों में गहरा आक्रोश है और 22 फरवरी को हाड़ौती से भी हजारों की संख्या में किसान जयपुर कूच करेगा। सचिव कमल बागड़ी ने बताया जयपुर कूच की तैयारी के लिए 11 फरवरी से नवनिर्वाचित तहसील कमेटी पंचायत समिति क्षेत्र की सभी 29 पंचायतों में संघर्ष यात्रा निकालने का प्रस्ताव पारित करते हुए किसानों को संघर्ष के लिए चेतना शील बनाने का काम किया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Itawah

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×