Hindi News »Rajasthan »Itawah» नवमी पर कन्याओं को कराया भोज, रामायण पाठ व धार्मिक आयोजनों की पूर्णाहुति

नवमी पर कन्याओं को कराया भोज, रामायण पाठ व धार्मिक आयोजनों की पूर्णाहुति

कस्बे में चैत्र नवरात्र के समापन पर रविवार को देवालयों में पूर्णाहुति की गई। पूर्णाहुति हवन यज्ञ व मंत्रोच्चार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 26, 2018, 04:25 PM IST

कस्बे में चैत्र नवरात्र के समापन पर रविवार को देवालयों में पूर्णाहुति की गई। पूर्णाहुति हवन यज्ञ व मंत्रोच्चार के साथ हुई। पूर्णाहुति के अवसर पर कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में सभी मंदिरों पर प्रतिमाओं का श्रृंगार किया गया। कस्बे में पूर्णाहुति के समय मंदिरों पर श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा। साथ ही महाआरती कर महाप्रसाद वितरण किया गया। पूर्णाहुति पर नन्ही-नन्ही कन्याओं को भोजन कराया गया एवं कई जगहों पर भंडारे का आयोजन भी किया गया। कन्याओं को भोजन कराकर उन्हें भेंट स्वरूप माता की चुनरी, फल दिए गए। कस्बे के वीर बालाजी मंदिर, कृषि उपज मंडी में स्थित विजय हनुमान मंदिर,लाल बाई माता मंदिरों पर विशेष श्रृंगार किया गया।

सुल्तानपुर. रविवार को खंडेलवाल समाज व नवयुवक मंडल द्वारा राम जन्मोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। कस्बे में श्रीरामचंद्र जी के मंदिर में स्थित प्रतिमाओं का दही, दूध गंगाजल के पंचामृत से प्रतिमाओं को स्नान कराया गया। साथ ही प्रतिमाओं का विशेष श्रृंगार किया गया। राम दरबार को फूलों से सजाया गया। दोपहर 12 बजे राम जन्म के दौरान महाआरती की गई व आतिशबाजी कर जन्मोत्सव मनाया। इसके बाद रामजी को भोग लगाया गया एवं श्रद्धालुओं को महाप्रसाद वितरण किया गया। महाआरती में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। राम जन्मोत्सव पर महिलाओं द्वारा भजन कीर्तन किए गए। रात्रि में जागरण कार्यक्रम हुआ व दोपहर 12 बजे रामजन्मोत्सव पर महाआरती की गई।

देवली मांजी. चैत्र नवरात्र के तहत शक्तिपीठों. मंदिरों एवं घरों पर चल रहे धार्मिक अनुष्ठानों का रविवार को पूर्णाहुति हवन के साथ समापन हुआ। आवां कस्बे के सिद्देश्वर ज्ञानेश्वर कोट के हनुमान, बाग के बालाजी मंदिर समेत अन्य शक्तिपीठों पर चैत्र नवरात्र महोत्सव के उपलक्ष्य में चल रहे श्री रामचरितमानस पाठ व सुंदरकांड तथा गायत्री प्रज्ञापीठ पर जारी अखंड गायत्री महामंत्र माला जाप वही दूधिया खेड़ी माताजी मंदिर परिसर में चल रहे दुर्गा सप्तशती पर पूर्णाहुति हवन हुए। समापन के मौके पर मंदिरों व स्थलों की देव प्रतिमाओं का फूल मालाओं से आकर्षक श्रृंगार किए। वही वैदिक मंत्रोचारण के बीच आयोजकों ने आहुतिया लगाई। विशेष आरती के बाद सामूहिक भोज के साथ ब्राह्मण व कन्याओं को भोजन करवाया।

कैथून. रामनवमी के अवसर पर जाखोड़ा गांव के डेरु माताजी के मंदिर परिसर में दशनार्थ आने वाले जातरुओं को भाजयुमो के मनीष कुमार नागर के नेतृत्व में खीर का वितरण किया गया। इस मैके पर एबीवीपी कैथून नगर अध्यक्ष हरीश कुमार नागर, भाजयुमो के नमन शर्मा, अभिराज, विनय, अनिल, यशवंत, विकास, दीपक, प्रवीण, अनीश, तरुण,पवन, सोनू, जोधराज, प्रद्युम्न, निशांत व टीकम मौजूद थे।

पीपल्दा. रविवार को दुर्गाष्टमी व रामनवमी श्रद्धा के साथ मनाई गई। लोगों ने परिवार के साथ घरों में कुल देवी की पूजा अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की। कई जगह कन्या भोज का आयोजन हुआ। 5 किलोमीटर दूर पार्वती नदी किनारे फूसोद कंकाली माता मंदिर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। माता के दर्शनों के लिये दिनभर भक्तों की आवाजाही लगी रही। माता का प्रतिमा विशेष श्रंगार हुआ। लोगों ने माता की पूजा अर्चना कर मन्नते मांगी।

इटावा . रविवार को क्षेत्र में दुर्गाष्टमी महापर्व श्रद्घापूर्वक मनाया गया। इसके चलते मंदिरों में देवी मां की प्रतिमाओं को श्रृंगारित किया गया। वहीं घर-घर में महागौरी का पूजन कर खीर हलवे का भोग लगाया गया । अष्टमी महापर्व के अवसर पर गैंता में वक्रांगी माता की मनोरम झांकी सजाई गई इस अवसर पर मातारानी का सोलह श्रृंगार किया गया व कन्या भोज करवाकर महाप्रसाद वितरित किया गया। इसी तरह फूसोद माता कंकाली माता,बीजासन माता,आशा पाला माता के दर्शनों को भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी जहां श्रद्घालुओं ने माता की पूजा-अर्चना कर खुशहाली की कामना की। इस अवसर क्षेत्र में जगह- जगह पर प्रतिमाओं का विशेष श्रृंगार किया गया था। वहीं झरन्या बालाजी मंदिर प्रांगण में अखंड सुंदरकांड पाठ का आयोजन हुआ।

मंडाना. कस्बे में रामनवमी पर्व पर कई धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। बस स्टैंड स्थित कमलेश्वर महादेव व रावठा रोड हनुमान मंदिर पर एक दिन की रामायण पाठ का आयोजन किया गया। घरों में नवमी की पूजा अर्चना की गई। दुधिया खेड़ी माताजी के दर्शन के लिए सुबह से ही भक्तों का आना जाना लगा रहा।

गणेशगंज. कस्बे में दुर्गा अष्टमी पर ग्रामीणों ने विधिवत रूप से घर- घर में महागौरी की पूजा- अर्चना की गई। इस के बाद घरों में महिलाओं द्वारा बनाई गई खीर लापसी का भोग लगाया। इस दौरान ही ग्रामीणों ने अस्त्र- शस्त्रों की पूजा की गई।

सांगोद | रविवार को शिल्प गौड़ ब्राह्मण समाज के लोगों ने यहां रामचन्द्र भगवान के जन्मोत्सव पर शोभायात्रा में शामिल लोगों का जगह जगह स्वागत किया। रविवार को शीतला माताजी के मंदिर के पास शिल्प गौड़ ब्राह्मण समाज के प्राचीन रामचंद्र भगवान के मंदिर पर समाज के लोग एकत्रित हुए । यहां से दोपहर दो बजे बैंडबाजे के साथ भगवान रामचंद्र भगवान की शोभायात्रा शुरू हुई जो मैन बाजार,सब्जी मंडी रोड, कोटा मार्ग, कोलियों के बड़ से भ्रमण करते हुए वापस मंदिर पर पहुंची। समाज ने रामचन्द्र भगवान का जन्मोत्सव उत्साह के साथ मनाया । इस मौके पर सांगोद सहित आसपास गांवों के लोगों ने उत्साह के साथ भाग लिया। शोभायात्रा के अंत में भगवान रामचंद्र भगवान की प्रतिमा विराजमान करके निकाली गई।

गणेशगंज. दुर्गा अष्टमी पर दौलतपुरा में शृंगारित प्रतिमा।

सांगोद. शिल्प गौड़ समाज के लोग रामचन्द्र जन्मोत्सव के मौके पर शाेभायात्रा निकालते हुए।

मंडाना. कस्बे में हनुमान मंदिर पर रामायण पाठ का आयोजन किया।

गणेशगंज. रामनवमी पर सजी कंकाली माता की प्रतिमा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Etawah News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: नवमी पर कन्याओं को कराया भोज, रामायण पाठ व धार्मिक आयोजनों की पूर्णाहुति
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Itawah

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×