• Home
  • Rajasthan News
  • Etawah News
  • मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल से सुल्तानपुर और इटावा में कामकाज प्रभावित
--Advertisement--

मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल से सुल्तानपुर और इटावा में कामकाज प्रभावित

सुल्तानपुर| पंचायत समिति मुख्यालय पर ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग में कार्यरत समस्त नरेगा कार्मिकों का...

Danik Bhaskar | May 17, 2018, 04:10 AM IST
सुल्तानपुर| पंचायत समिति मुख्यालय पर ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग में कार्यरत समस्त नरेगा कार्मिकों का सामूहिक अनिश्चित कालीन हड़ताल बुधवार को भी जारी रही। नवीन सोनी, चैतन्य प्रसाद नंदवाना, पवन खंडेलवाल व तेजेंद्र मीणा ने बताया कि पंचायतीराज विभाग भर्ती 2013 में संविदा कार्मिकों को दिए जाने वाला बोनस अंक के संदर्भ में सर्वोच्च न्यायालय में दायर एसएलपी में निर्णय 29 नवंबर 2016 को राज्य सरकार एवं संविदा कार्मिकों के पक्ष में हो चुका है।

इससे भर्ती के समय स्वीकृत अधीनस्थ सेवा के 4319 पदों को वित्त विभाग अब नियमित भर्ती नहीं करते हुए संविदा पर यथावत रखने के लिए विचार कर रहा है। ऐसी स्थिति में संविदा कार्मिक नियमित होने से वंचित रह जाएंगें। इस फैसले से कार्यरत संविदा कर्मियों के साथ अन्याय होगा। जबकि कनिष्ठ लिपिक भर्ती को यथावत रखने के लिए पत्रावली प्रस्तुत की गई है। 2013 में निकाली गई भर्ती के संपूर्ण पद में से शेष रहे पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू कराने की मांग की। कनिष्ठ लिपिक अधीनस्थ सेवा भर्ती की फैसला सरकार व कर्मिकों के पक्ष में आने के बाद भी नियुक्ति नहीं दी गई है।

इटावा| अपनी विभिन्न मांगों को लेकर मनरेगा के संविदा कर्मचारियों ने लगातार सत्ररवें दिन बुधवार को मनरेगा कार्य का बहिष्कार कर हड़ताल की व अटल सेवा केंद्र के बाहर धरना दिया। संविदा कर्मियों की हड़ताल के चलते क्षेत्र में मनरेगा की फीडिंग, भुगतान सहित ओर अन्य कार्य प्रभावित हो रहे हैं जिससे लोगों की परेशानी बढ़ गई हैं। ब्लॉक अध्यक्ष मुरलीधर मीणा ने बताया कि ब्लॉक स्तर पर कनिष्ठ लिपिक भर्ती 2013 और एसएसआर भर्ती 2013 को पूर्ण करवाने, कार्यरत नरेगा कर्मियों के समायोजन की मांग को लेकर मनरेगा संविदा कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की थी। इसके तहत क्षेत्र में मनरेगा के सभी संविदा कर्मी हड़ताल पर है। हड़ताल के दौरान बुधवार को संविदाकर्मियों ने अटल सेवा केंद्र के बाहर धरना देकर सरकार से कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने की मांग की ने बताया कि हड़ताल की वजह से मनरेगा के सभी कार्य ठप हो गए हैं । इस दौरान नरेश कुमार, हरिप्रकाश जैन, जगदीश गोयल, रघुनंदन गौड़, सुरेंद्र कुशवाह, मुकुटबिहारी बैरवा, शिवप्रकाश गोचर, सत्यनारायण मीणा मौजूद रहे।

सुल्तानपुर. पंचायत मुख्यालय पर हड़ताल करते मनरेगा कर्मी।

इटावा. अपनी मांगों को लेकर धरना देते मनरेगा श्रमिक।