• Home
  • Rajasthan News
  • Jahajpur News
  • पुरुषार्थ करने पर ही मंजिल प्राप्त हो सकती है: आचार्य सुकुमाल नंदी
--Advertisement--

पुरुषार्थ करने पर ही मंजिल प्राप्त हो सकती है: आचार्य सुकुमाल नंदी

भास्कर संवाददाता | हनुमाननगर महावीर दिगंबर जैन मंदिर में आयोजित वृहद सिद्धचक्र विधान में श्रद्धालुओं को...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | हनुमाननगर

महावीर दिगंबर जैन मंदिर में आयोजित वृहद सिद्धचक्र विधान में श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए आचार्य सुकुमालनंदी महाराज ने कहा कि कायर व्यक्ति कभी शास्त्रों से नहीं लड़ सकता, पंगु पहाड़ के शिखर तक नहीं पहुंच सकता, हमेशा पुरुषार्थ करने से ही मंजिल मिला करती है। उन्होंने कहा कि बैठा हुआ, सोता हुआ व्यक्ति कभी आगे नहीं बढ़ सकता। भाग्य के भरोसे ही बैठे रहना मूर्खता है। जिस प्रकार स्वर्ण पाषाण से स्वर्ण को अलग किया जा सकता है, जिस प्रकार दूध से घी को अलग किया जा सकता है, उसी प्रकार भेद विज्ञान से शरीर से आत्मा को अलग किया जा सकता है। आज का इंसान अपने अज्ञान से ही दुखी है। शाम को आरती व जिज्ञासा समाधान में खुल जा सिम-सिम ज्ञानवर्धक धार्मिक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जहाजपुर स्वस्ति धाम के पदाधिकारियों ने श्रीफल चढ़ाकर जहाजपुर पधारने का महाराज से निवेदन किया।