Hindi News »Rajasthan »Jahajpur» संत रामपाल के प्रवचन; पाखंड, अंधविश्वास और बाहरी आडंबर को विकास में बाधक बताया

संत रामपाल के प्रवचन; पाखंड, अंधविश्वास और बाहरी आडंबर को विकास में बाधक बताया

जहाजपुर रोड स्थित श्री मंदिर टॉकीज में रविवार को तत्वदर्शी संत रामपाल के सानिध्य में मंगल प्रवचन संपन्न हुआ।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 03:50 AM IST

जहाजपुर रोड स्थित श्री मंदिर टॉकीज में रविवार को तत्वदर्शी संत रामपाल के सानिध्य में मंगल प्रवचन संपन्न हुआ। जिसमें सभी धर्मशास्त्र गीता, कुरान, बाइबिल, गुरु ग्रंथ साहिब, 18 पुराण, चार वेद द्वारा बताए गए भक्तिमार्ग की जानकारी दी। पूर्ण परमात्मा के सशरीर होने का प्रमाण दियाl

संत ने सत्संग में बताया कि पाखंड, अंधविश्वास, अंधश्रद्धा, बाहरी आडंबर मनुष्य जीवन के कल्याण में बाधक है। सच्ची भक्ति पूर्ण संत की शरण में जाने से ही मिलती है जो कि तत्वदर्शी संत होता है और उसके द्वारा बताए नाम स्मरण से ही मोक्ष हो सकता है। कार्यक्रम में 700 भक्तजन पधारें 16 लोगों ने संत से नाम लेकर भक्ति मार्ग की राह पर चलने का संकल्प लिया। सत्संग में सुरेश दास, कैलाश दास, नारायण दास व अन्य भक्तों ने सेवा दी संत के प्रवचन के दौरान श्रद्धालुओं ने नशा नहीं करने, बेटी बचाने व पढ़ाने, दहेज नहीं लेने का संकल्प किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jahajpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×