• Home
  • Rajasthan News
  • Jahajpur News
  • चंवलेश्वर श्वेतांबर तीर्थ पर कल नाकोड़ा भैरव नाथ का महापूजन करेंगे 251 जोड़े
--Advertisement--

चंवलेश्वर श्वेतांबर तीर्थ पर कल नाकोड़ा भैरव नाथ का महापूजन करेंगे 251 जोड़े

अरावली पर्वत शृंखला पर 1500 वर्ष पुराने चंवलेश्वर पार्श्वनाथ महातीर्थ की तलहटी पर नवनिर्मित जय चंवलेश्वर...

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 04:00 AM IST
अरावली पर्वत शृंखला पर 1500 वर्ष पुराने चंवलेश्वर पार्श्वनाथ महातीर्थ की तलहटी पर नवनिर्मित जय चंवलेश्वर पार्श्वनाथ जैन श्वेतांबर तीर्थ के त्रिशिखरीय पार्श्वनाथ, आदिनाथ एवं महावीर स्वामी के जिनालय का शिलान्यास 14 जुलाई को होगा। इस दौरान साध-संत व साध्वियां मौजूद रहेंगे।

बुधवार को चतुर्विद संघ के सानिध्य में जहाजपुर से छ:रिपालित पैदल संघ यात्रा रवाना हुई। यात्रा ने ओड़ियाखेड़ा में रात्रि विश्राम किया। 12 जुलाई को सुबह ओड़ियाखेड़ा से यात्रा रवाना होकर पारोली पहुंचेगी। 13 जुलाई को चंवलेश्वर महातीर्थ पर संघ यात्रा का प्रवेश होगा। पांडाल में 251 जोड़े नाकोड़ा पार्श्व भैरव महापूजन करेंगे। 14 जुलाई को जिनालय का शिलान्यास किया जाएगा। छ:रिपालित संघ के संघपति संघवी परिवार भीलवाड़ा, संचेती परिवार पारोली तथा बंब परिवार जहाजपुर पदयात्रा में शामिल हुए। चंवलेश्वर महातीर्थ पर छ:रिपालित पैदल संघ यात्रा पहली बार पहुंच रही है। जय चंवलेश्वर पार्श्वनाथ जैन श्वेतांबर तीर्थ ट्रस्ट चेनपुरा के अध्यक्ष कानसिंह ओस्तवाल ने बताया कि शिलान्यास कार्यक्रम में राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात सहित अनेक प्रांतों के श्रद्धालुओं को आमंत्रित किया है। ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष सुनील कुमार बंब, उपाध्यक्ष हिम्मतमल सुराणा, नेम कुमार सिंघवी, सचिव रिखबचंद धम्माणी, सहसचिव ज्ञानमल सुराणा, विनोद कुमार संचेती, लादूसिंह ओस्तवाल, ताराचंद बंब, लक्ष्मणसिंह चपलोत, महेंद्र कुमार बापना, अशोक कुमार आंचलिया, हंसराज बांटिया, निर्मल कुमार लोढ़ा, राजेंद्र कोठारी आदि को विशेष जिम्मेदारी दी गई।

यात्रा का पारोली में प्रवेश होगा आज