Hindi News »Rajasthan »Jahajpur» 41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई बारिश नहीं होने से फसलों पर छाया संकट

41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई बारिश नहीं होने से फसलों पर छाया संकट

इस साल 41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई की। सावन महीना आधा बीतने को है, लेकिन बारिश का दौर थमा है। बारिश नहीं हुई तो...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 09, 2018, 04:30 AM IST

41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई बारिश नहीं होने से फसलों पर छाया संकट
इस साल 41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई की। सावन महीना आधा बीतने को है, लेकिन बारिश का दौर थमा है। बारिश नहीं हुई तो फसलें सूखने का संकट हो जाएगा। बारिश की बेरुखी ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। गत साल के मुकाबले अब तक साढ़े चार इंच कम बारिश हुई है। बारिश की कमी से जलाशय खाली हैं। भंवरकलां तालाब अब तक खाली पड़ा है। तालाब में गंदगी फैली है। तालाब के किनारे नीलकंठ महादेव मंदिर है। सामने पंचमुखी बालाजी का स्थान है। तालाब में जलझूलनी एकादशी पर बेवाण जल विहार करते हैं। तालाब में घाट के आसपास विलायती बबूल उगे हैं। लोगों ने नगरपालिका प्रशासन से तालाब में पानी की आवक से पहले घाट के आसपास, पाल व किनारों पर उगे विलायती बबूल हटाने व तालाब में शौच करने पर रोक लगाने की मांग की।

जहाजपुर. बारिश अभाव में खाली पड़ा भंवरकलां तालाब।

पिछले साल से साढ़े चार इंच बारिश कम

सहायक कृषि अधिकारी भगवत सिंह राणावत ने बताया कि इस साल 41 हजार 84 हैक्टेयर में खरीफ की बुआई की गई। मक्का, ज्वार, कपास, तिल, उड़द, मूंग, सोयाबीन, मूंगफली आदि फसलों को अब पानी की जरूरत है। जल संसाधन विभाग के सहायक अभियंता रामप्रसाद मीणा ने बताया कि वर्ष 2017 में 8 अगस्त तक साढ़े 16 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई थी। वहीं इस वर्ष 8 अगस्त 2018 तक 12 इंच बारिश हुई है। यानी पिछले वर्ष की तुलना में इस बार 4.5 इंच बारिश कम हुई। नागदी बांध गेज लेवल से नीचे है। बरदपुरा तालाब, शक्करगढ़ बांध, नवर| सागर खाली हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jahajpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×