हनी ट्रैप  / सरपंच से 20 लाख वसूली का मामला, अजमेर जेल से रची थी साजिश



पुलिस हिरासत में आरोपी। पुलिस हिरासत में आरोपी।
X
पुलिस हिरासत में आरोपी।पुलिस हिरासत में आरोपी।

  • हत्या के दोषी मदन के संपर्क में थी दौलत बानो
  • सरपंच को मुरलीपुरा में बंधक बनाकर रखा था 

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 01:35 AM IST

जयपुर. सीकर के नेतड़वास सरपंच रामदेव सिंह का वीडियो वायरल की धमकी देकर 20 लाख लेने वाली गैंग की सरगना कुचामन सिटी निवासी लेडी-डॉन दौलत बानो के तार अजमेर सेन्ट्रल से जुड़े हैं। दौलत बानो की कॉल डिटेल में सामने आया वह हत्या में उम्रकैद काट रहे मदन सिंह से टच में थी। यह वारदात उसने मदन सिंह के इशारे पर ही की थी। सरपंच रामदेव सिंह से पैसे वसूलने के मामले में झोटवाड़ा पुलिस ने दौलत बानो, कांकरिया निवासी विष्णु सिंह व श्याम सिंह को गिरफ्तार किया था। एसीपी आश मोहम्मद ने बताया विष्णु जेल में बंद हुआ था।

 

जेल में उसकी दोस्ती मदन सिंह से हो गई। रिहा होने के बाद विष्णु भी दौलत की गैंग से जुड़ गया। पैसे लेने के दौरान पेट्रोल पंप से मिले वीडियो के आधार पर जांच अधिकारी खम्माराम, स्पेशल टीम में तैनात कांस्टेबल सुरेश चाहर, प्रवीण व मालीराम की टीम कुचामन भेजी गई थी। अभी गैंग के आधा दर्जन बदमाशों की तलाश की जा रही है।

 

बदमाशों ने सरपंच को मुरलीपुरा की भवानी शंकर कॉलोनी स्थित एक मकान में बंधक बनाकर रखा था, जिसकी तस्दीक की जा रही है।   इस दौरान आरोपियों ने पैसे लेने के लिए सरपंच के एक रिश्तेदार के पेट्रोल पंप को चुना। यहां विष्णु और श्याम सिंह पहुंचे और मशीन से काउंट करने के बाद ही पैसे लिए थे। 

 

पैसे मदन के इशारे पर एक अनजान व्यक्ति को दिए : विष्णु ने सरपंच के रिश्तेदार से लिए पैसे जेल से मदन सिंह का फोन आने के बाद कुचामन से तीन किलोमीटर दूर एक अनजान व्यक्ति को दे दिए। जिसकी पहचान के लिए मदन सिंह के मोबाइल नंबरो की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है। इससे पहले भी दौलत बानो की गैंग कुछ दिन पहले इसी तरह कुचामन के एक ठेकेदार को फंसाकर 1लाख रुपए नकद व करीब एक लाख रुपए कीमत के जेवर हड़पने की जानकारी मिली है।

COMMENT