जयपुर / कचरे से बिजली, फ्यूल और पानी के प्लांट पर 20 हजार करोड़ खर्च होंगे

20 thousand crores will be spent on fuel and water plant
X
20 thousand crores will be spent on fuel and water plant

  • एजी डॉटर्स और जेके सीमेंट के साथ चर्चा, निवेश व उत्पादन की रूपरेखा बताई

दैनिक भास्कर

Oct 10, 2019, 07:17 AM IST

जयपुर. उद्योग विभाग के एसीएस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा देश-विदेश के औद्योगिक प्रतिष्ठान अब राजस्थान में निवेश तो तरजीह दे रहे हैं। उन्होेंने बताया यूएस बेस्ड एजी डॉटर्स ने जयपुर सहित आठ शहरों में 20 हजार करोड़ के निवेश से ठोस व तरल कचरा आधारित ऊर्जा, फ्यूल उत्पादन के साथ पीने का पानी उपलब्ध कराने का प्लांट स्थापित करने में रुचि दिखाई है, जबकि जेके सीमेंट ने विस्तार में रुचि दिखाई है। 

 

डॉ. अग्रवाल बुधवार को उद्योग भवन के ब्यूरो ऑफ इंवेस्टमेंट प्रमोशन में उद्योग आयुक्त मुक्तानंद अग्रवाल के साथ संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। एजी डॉटर्स प्रतिनिधियों ने प्रजेटेंशन देते प्रदेश के जयपुर सहित 8 शहरों मंें ठोस व तरल कचरे का शतप्रतिशत निष्पादन करते हुए उससे 13735 मेगावाट बिजली का उत्पादन, 695 एमएलडी पीने का पानी और 495 एमएलडी फ्यूल में गैस व डीजल आदि के उत्पादन की रूपरेखा प्रस्तुत की। जेके सीमेंट ने बताया 868 करोड़ रु. का निवेश कर सीमेंट इकाई की उत्पादन क्षमता को बढ़ाया जाएगा।

 

उन्होंने बताया कि कंपनी ओएलबीसी तैयार कराने की योजना भी है। उन्होंने बताया कि इससे प्रदेश में 2.48 मिलियन टन उत्पादन में बढ़ोतरी होगी। बैठक में संयुक्त निदेशक उद्योग संजय मामगेन, ब्यूरो ऑफ इंवेस्टमेंट प्रमोशन के नागेश शर्मा, नगर निगम के मुख्य अभियंता एके सिंघल, राज्य प्रदूषण बोर्ड के अधिशासी अभियंता केसी गुप्ता, जेवीवीएनएल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एमएम रमण ने प्रस्ताव पर विस्तार से जानकारी ली।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना