भास्कर खास / एसपी दफ्तर में 3 केस दर्ज हुए किसी एसएचओ पर कार्रवाई नहीं



3 cases filed in SP office, no action taken on SHO
X
3 cases filed in SP office, no action taken on SHO

  • अलवर में थानागाजी गैंगरेप के बाद 1 जून से शुरू हुई थी व्यवस्था
  • सीएम ने कहा था- थाने में केस दर्ज न हो तो एसपी दफ्तर में कराएं, ऐसे में एसएचओ पर कार्रवाई होगी

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 01:54 AM IST

जयपुर. अलवर के थानागाजी में गैंगरेप की घटना के बाद राज्य सरकार ने आदेश दिया था कि अगर थाने में केस दर्ज न हो तो एसपी ऑफिस में करा सकते हैं। साथ ही ऐसे केस दर्ज होने पर संबंधित थाने के एसएचओ पर कार्रवाई करने का भी आदेश दिया गया था। मगर प्रदेश में ऐसे 154 और कमिश्नरेट में तीन केस दर्ज हुए हैं। पर अभी तक किसी भी एसएचओ पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

 

इसलिए बना था नया सिस्टम: अलवर के थानागाजी इलाके में युवती के साथ गैंगरेप के बाद बदमाशाें द्वारा उसका वीडियाे वायरल करने की घटना में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने अाई थी। पुलिस ने युवती के रिपाेर्ट देने के बाद मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था और तीन दिन तक पीड़िता पुलिस के चक्कर लगा रही थी।

 

तीनों मामले जून में ही आए: जयपुर पुलिस कमिश्नरेट में 3 मुकदमे ही डीसीपी कार्यालय से दर्ज हुए हैं। खास बात यह है कि यह तीनाें मुकदमे जून में दर्ज हुए थे। पिछले दाे माह में कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ। अब तक डीसीपी ईस्ट कार्यालय में 2 और डीसीपी साउथ कार्यालय में 1 आपराधिक मुकदमा दर्ज हुआ है।

 

डीजीपी बोले- ऐसे मामलों का पहले विश्लेषण करेंगे

एसपी दफ्तर में दर्ज हाेने वाले केस का पहले विश्लेषण करेंगे। फिर आगे की कार्रवाई करेंगे। - भूपेन्द्र सिंह यादव, डीजीपी

 

जून में एसपी दफ्तर में 77 केस दर्ज हुए। इनमें से जांच में 10 मामलाें में पुलिस ने चालान पेश किया। 13 में एफअार लगा दी। 54 केस थानों में ही पेंडिंग पड़े थे। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना