Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» 3 Persons Died In Road Accident

मरी हुई पत्नी की लाश को गोद में लेकर बैठा रहा पति, बगल में पड़ी थी खून से लथपथ बेटे की लाश

जयपुर रोड पर सवेरे हुई दुर्घटना में दोनों बाइक सवार 10 फुट तक हवा में उछले

Bhaskar News | Last Modified - Apr 12, 2018, 08:28 AM IST

  • मरी हुई पत्नी की लाश को गोद में लेकर बैठा रहा पति, बगल में पड़ी थी खून से लथपथ बेटे की लाश
    +1और स्लाइड देखें
    बाइक की टक्कर में बेटा व पत्नी की मौत पर विलाप करता पिता।

    किशनगढ़ (अजमेर). दो बाइक आपस में टकराने से तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि दो गंभीर घायल हो गए। मृतकों में मां-बेटा शामिल है। भिड़ंत इतनी तेज थी कि बाइक सवार लोग 10 फुट तक उछल कर दूर जा गिरे तथा दाेनों बाइक चकनाचूर हो गई। सुबह करीब 10:15 बजे जयपुर रोड पर रामजीपुरा के पेट्रोल पंप के नजदीक आमने सामने से दो बाइकों में भिड़ंत हो गई। इससे उन पर सवार पांच लोग घायल हो गए। 108 एंबुलेंस द्वारा सभी को रेनवाल के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। इन लोगों को मृत घोषित किया...

    हॉस्पिटल में सन्नी सांसी (25) पुत्र सरलाराम, प्रेम देवी (60) पत्नी सरलाराम दोनों निवासी मुंडियागढ़ व सत्यनारायण शर्मा (22) पुत्र मंगलचंद निवासी नांदरी को मृत घोषित कर दिया, जबकि जीतू वर्मा (20) पुत्र प्रकाश चंद निवासी प्रतापपुरा व सल्लाराम सांसी (61) पुत्र गरीब राम निवासी मुंडियागढ़ को गंभीर हालत में प्राथमिक उपचार के बाद जयपुर एसएमएस हॉस्पिटल रेफर कर दिया। मृतकों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। सूचना पर पुलिस उपाधिक्षक हीरालाल सैनी, थानाप्रभारी मनीष शर्मा मौके पर पहुंचे और घटना का जायजा लिया।

    मां को दवाई दिलाने ले जा रहा था जयपुर

    मृतक सन्नी सांसी अपनी मां प्रेम देवी को पिता सल्लाराम के साथ जयपुर दवा दिलाने के लिए चिकित्सक के पास जा रहा था, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था। घटना में मां-बेटा की मौत हो गई। मृतक सन्नी के चार बहिनें व एक भाई है। घटना की सूचना पर हॉस्पिटल पहुंची एक बहन का रो-रोकर बुरा हाल था। महिलाएं उसे ढाढस बंधा रही थी। मृतक अविवाहित था तथा मजूदरी करता था। दूसरी बाइक पर सवार सत्यनारायण व जीतू वर्मा हिंगोनिया बीए फाइनल की हिन्दी साहित्य की परीक्षा देकर घर लौट रहे थे। घटना में सत्यनारायण की मौत हो गई, जबकि जीतू गंभीर घायल हो गया।

    हेलमेट ने बचाई जान

    मृतक सन्नी सांसी मां-बाप के साथ बाइक से जयपुर जा रहा था। जयपुर में हेलमेट जरूरी होने की वजह से उसने हेलमेट तो ले लिया, लेकिन लगाया नहीं। वो हेलमेट उसके पीछे बैठे पिता सल्लाराम ने लगा लिया। जबरदस्त टक्कर होने के बावजूद हेलमेट लगाए होने की वजह से सल्लाराम की जान बच गई। जीतू वर्मा सड़क से दूर मिट्टी में जा गिरने की वजह से बच गया। इनके केवल चोटें ही आई।

    पोस्टमार्टम के मामले में विवाद


    दुर्घटना में तीन की मौत के बाद पाेस्टमार्टम को लेकर गहमागहमी हो गई। इस मौके पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के इंजार्च ने घटना रामजीपुरा के पास होने की वजह से पोस्टमार्टम मंडाभीमसिंह के चिकित्सक द्वारा करने की बात कहने पर लोग आक्रोशित हो गए। लोगों ने इसकी शिकायत तहसीलदार, एसडीएम, सीएमएचओ व विधायक से की। लोगों का कहना था कि जब जयपुर के एसएमएस हॉस्पिटल जयपुर में सभी पोस्टमार्टम होते हैं, घटना चाहे कहीं की भी हो तो यहां क्यों नहीं। बाद में यहीं के चिकित्सकों ने सभी तीनों पोस्टमार्टम किए।दुर्घटना में तीन की मौत के बाद पाेस्टमार्टम को लेकर गहमागहमी हो गई।

    इस मौके पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के इंजार्च ने घटना रामजीपुरा के पास होने की वजह से पोस्टमार्टम मंडाभीमसिंह के चिकित्सक द्वारा करने की बात कहने पर लोग आक्रोशित हो गए। लोगों ने इसकी शिकायत तहसीलदार, एसडीएम, सीएमएचओ व विधायक से की। लोगों का कहना था कि जब जयपुर के एसएमएस हॉस्पिटल जयपुर में सभी पोस्टमार्टम होते हैं, घटना चाहे कहीं की भी हो तो यहां क्यों नहीं। बाद में यहीं के चिकित्सकों ने सभी तीनों पोस्टमार्टम किए।

  • मरी हुई पत्नी की लाश को गोद में लेकर बैठा रहा पति, बगल में पड़ी थी खून से लथपथ बेटे की लाश
    +1और स्लाइड देखें
    घायलाें का इलाज करती चिकित्सक टीम।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×