राजस्थान / प्रदेशभर में 5000 रेजीडेंट हड़ताल पर, 300 से ज्यादा ऑपरेशन टले

वार्ड में मरीज हैं, लेकिन डॉक्टर नहीं वार्ड में मरीज हैं, लेकिन डॉक्टर नहीं
X
वार्ड में मरीज हैं, लेकिन डॉक्टर नहींवार्ड में मरीज हैं, लेकिन डॉक्टर नहीं

  • आवासीय भत्ता देने सहित कई मांगों पर दो बार वार्ता, लेकिन फेल

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 05:07 AM IST

जयपुर. प्रदेशभर में मंगलवार काे 5000 से अधिक रेजीडेंट िवभिन्न मांगाें काे लेकर हड़ताल पर रहे। नतीजतन इलाज की उम्मीद में मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अस्पतालों में पहुंचे मरीजों को या तो इलाज नहीं मिला या तीन से चार घंटे इंतजार करना पड़ा। प्रदेशभर में पहले से प्रस्तावित 310 से अधिक ऑपरेशन टल गए और 15000 से ज्यादा मरीज परेशान होते रहे। 

सरकार और रेजीडेंट के बीच हुई दो बार की वार्ता विफल रही। अब रेजीडेंटस ने लिखित में मांग पूरी करने की जिद पकड़ ली है। रेजीडेंट डाॅक्टराें के संगठन जार्ड ने मांगें नहीं माने जाने तक हड़ताल की चेतावनी दी है। एसएमएस सहित सभी मेडिकल कॉलेजों के अस्पतालों में मरीजों को बाद में आने के लिए कहा जा रहा है। जिन डॉक्टर्स के ऑपरेशन डे मंगलवार को थे, उनके ऑपरेशन नहीं हो सके। अब उन्हें अगले सप्ताह या अन्य दिनों के इंतजार के लिए कहा गया है।

जयपुर, अजमेर, उदयपुर, कोटा, बीकानेर सहित अन्य सभी जगह इमरजेंसी केस को ही पहले लिया गया। उल्लेखनीय है कि रेजीडेंट्‌स अन्य राज्यों की तर्ज पर आवासीय भत्ता देने, हाल ही में बढ़ाई गई पीजी और सुपर स्पेशिलिटी की फीस का आर्डर वापस लेने व चिकित्सकों के लिए पुख्ता सुरक्षा उपलब्ध कराने की सहित अन्य मांगें कर रहे हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना