--Advertisement--

हादसा / कार में 4 बच्चे व 7 शिक्षिकाएं बैठी थीं, डंपर से टकराए, 8 की मौत



सलूंबर में कार और डंपर में हुई भिड़ंत में दो बच्चों सहित छह लोगों की मौत हो गई। सलूंबर में कार और डंपर में हुई भिड़ंत में दो बच्चों सहित छह लोगों की मौत हो गई।
अस्पताल में जमा लोग। अस्पताल में जमा लोग।
X
सलूंबर में कार और डंपर में हुई भिड़ंत में दो बच्चों सहित छह लोगों की मौत हो गई।सलूंबर में कार और डंपर में हुई भिड़ंत में दो बच्चों सहित छह लोगों की मौत हो गई।
अस्पताल में जमा लोग।अस्पताल में जमा लोग।

  • मृतकों में 3 बच्चे, 5 शिक्षिकाएं, उदयपुर में खेराड़ गांव के पास भीषण हादसा, तीन घायल

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 05:16 AM IST

सलूंबर (उदयपुर).  उदयपुर से 50 किमी दूर जयसमंद-सलूंबर मार्ग पर खेराड़ गांव के पास शनिवार सुबह स्विफ्ट डिजायर कार गिट्‌टी से भरे खड़े डंपर से टकरा गई। हादसे में 3 स्कूली बच्चों और 5 शिक्षिकाओं की मौत हो गई। एक बच्चा और दो शिक्षिकाएं गंभीर घायल हुईं।

 

कार में 4 बच्चे व 7 शिक्षिकाएं सवार थीं। मृतकों में एक शिक्षिका व उनका बेटा तथा एक अन्य शिक्षिका की बेटी है। ये सभी सलूंबर स्थित द मॉरल एकेडमी स्कूल से पिकनिक के लिए जयसमंद झील जा रहे थे। स्कूल से दो कारें रवाना हुई थी। दुर्घटनाग्रस्त हुई कार को स्कूल संचालक कमलेश चौधरी की पत्नी प्रेक्षा चला रही थी। प्रेक्षा तो घायल हुई, लेकिन उनकी साढ़े 5 साल की बेटी गौरी की मौत हो गई। मृतकों में अलवर का लक्ष्य यादव (5), उसकी मां सरोज (30), सलूंबर निवासी कुपेंद्र सिंह (5), गीता मेघवाल (22), मोनिका खटीक (22), संतोष (28), मनीषा पुरी (22) भी हैं।

 

 

हृदय विदारक हादसा जिसने देखा, रो पड़ा : स्कूल संचालिका प्रेक्षा चौधरी, सलूंबर निवासी 8 वर्षीय करण सिंह, 19 वर्षीय पायल शर्मा घायल हुए हैं। इनका एमबी अस्पताल में इलाज चल रहा है। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार घटनास्थल से 40 फीट दूर जाकर पलट गई। 6 वर्षीय एक बच्चा तो 60 फीट दूर घायल अवस्था में मिला। शव और घायल बुरी तरह कार में फंस गए, जिन्हें ग्रामीणों ने आधे घंटे की मशक्कत के बाद बाहर निकाला। इस हृदय विदारक घटना को जिसने भी देखा रो पड़ा। उधर, हादसे में मारी गई शिक्षिका मोनिका खटीक के परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई की मांग को लेकर शव लेने से इनकार कर दिया

 

शिक्षिका चला रही थी कार, गोद में थी बेटी : घायल पायल ने बताया कि कार को स्कूल संचालक की पत्नी प्रेक्षा चला रही थी। गोद में साढ़े पांच साल की बेटी गौरी थी। उसे संभालने के चक्कर में कार अनियंत्रित हुई और डंपर में जा घुसी।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..