Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Duplicate Currency Network Busted

नकली नोट सप्लाई : वेस्ट बंगाल की बहरामपुर जेल से जुड़े हैं गैंग के तार

पश्चिम बंगाल से 1.90 लाख रुपए के नकली नोट लेकर अाए तस्कर को पुलिस ने पकड़ा था।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 04, 2017, 08:13 AM IST

नकली नोट सप्लाई : वेस्ट बंगाल की बहरामपुर जेल से जुड़े हैं गैंग के तार

जयपुर.रेलवे स्टेशन पर शनिवार रात को 2000-2000 रु. के 95 नकली नोट के साथ पकड़ा गया राजीव शेख पश्चिम बंगाल की बहरामपुर जेल में बंद बदमाशों के कहने पर नकली नोट पहुंचाने आता है। इसके बदले उसे 5 हजार रु. मिलते हैं। राजीव शेख खुद पहले गाड़ी लूटने के जुर्म में बहरामपुर जेल में बंद रह चुका है। वहीं इसके ताल्लुकात नकली नोटों की सप्लाई करने वाले बदमाशों से हुए और वह यह काम करने लगा।

एसओजी के एडिशनल एसपी करण शर्मा ने बताया कि राजीव शेख ने बताया है कि जब वह जेल से छूटकर आया था, तब जेल से ही किसी बदमाश का फोन आया। उसने उससे कहा था कि धौलियान से दो लोग नकली नोट लेकर आए हैं। यह नोट जयपुर में खपाने को कहा गया था। इसके बदले पांच हजार रुपए देने को कहा था।


बहरामपुर जेल जाएगी एसओजी
एसओजी ने रविवार को आरोपी को कोर्ट में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया है। एसओजी की टीम बहरामपुर जेल जाकर नकली नोट सप्लाई करने वाले बदमाश से पूछताछ करेगी। आरोपी से मिले 1.90 लाख रुपए को रिजर्व बैंक और नासिक प्रेस में भिजवाया जाएगा, जहां इनकी जांच होगी।

करण शर्मा ने बताया कि नकली नोटों में असली नोटों की तुलना में कागज मोटा है और नोटों के किनारे पर लाइनें उभरी हुई नहीं है। एसओजी सोमवार को आरोपी को फिर से कोर्ट में पेश करेगी।

गौरतलब है कि शनिवार रात पश्चिम बंगाल से 1.90 लाख रुपए के नकली नोट लेकर जयपुर आए राजीव शेख को एसओजी ने हसनपुरा पुलिया के पास से पकड़ा था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: nkli note splaaee : vest bngaaal ki bharaampur jail se judee hain gaainga ke taar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×