--Advertisement--

8 साल पहले स्कूल स्टूडेंट की किडनैपिंग के बाद हुआ मर्डर, यूं उलझी है ये मिस्ट्री

विजुएल स्टोरी के तहत जानिए इस क्राइम मिस्ट्री को।

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2017, 06:44 AM IST
harshit matder mistry in visual series

जयपुर. 8 साल पहले नाहरगढ़ थाना इलाके के जयलाल मुंशी के रास्ते में रहने वाले 9 साल के हर्षित सोनी का अपहरण हुआ था और उसके बाद हत्या कर दी गई। दरअसल, हर्षित स्कूल से परीक्षा देकर ऑटो से घर लौटा था। घर से सामने से ही किसी ने उसका अपहरण कर लिया। बाद में हत्या कर हर्षित की लाश टोंक जिले के निवाई थाना इलाके में चेनानी रेलवे स्टेशन के पास फेंक दी गई। बार-बार शक की सुई करीबियों और जानकारों की तरफ घूमी। हर्षित के परिवार के तीन सदस्यों के नार्को एवं ब्रेन मैपिंग टेस्ट भी हुए, लेकिन फिर भी पुलिस हत्यारों का पता नहीं लगा पाई।

9 जांच अधिकारी, 8 साल में भी नतीजा जीरो
एडिशनल एसपी अशोक नरूका, आलिम ताहिर, राजेश सिंह, अनिल टांक, एसीपी आशीष प्रभाकर, एसएचओ मोहर सिंह, प्रदीप गोयल व अनूप जांच अधिकारी रह चुके है। वर्तमान में जांच एडिशनल डीसीपी राजेश मील के पास है। खास बात यह है कि आशीष प्रभाकर ने सुसाइड कर लिया। जबकि नरूका एसपी बनने के बाद रिटायर्ड हो चुके है। अनिल टांक व राजेश सिंह वर्तमान में जिला एसपी के पद पर तैनात हैं।

अागे की स्लाइड्स के इंफोग्राफ्स में पढ़ें हर्षित मर्डर मिस्ट्री का घटनाक्रम...

harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
X
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
harshit matder mistry in visual series
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..