--Advertisement--

दूल्हा था घोड़ी पर सवार और नाच रहे थे बाराती, हुआ कुछ ऐसा कि 3 की हो गई मौत

दूल्हे की एक बुआ के दामाद, दूसरी के बेटे व बैंडबाजे वाले की मौत

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 06:04 AM IST
हादसे से पहले जो साफे दूल्हे के परिजनों के सिर पर बंधे थे, उतर गए। हादसे से पहले जो साफे दूल्हे के परिजनों के सिर पर बंधे थे, उतर गए।

बांदीकुई (दौसा). अलवर-सिकंदरा मेगा हाइवे के बांदीकुई बाइपास पर बुधवार रात दुर्घटना जीप चालक की लापरवाही से हुई। सामने से आ रहे ट्रक से बचने के लिए चालक ने जीप रोकने की बजाय कट मारा और जीप बरातियों पर चढ़ गई। इस हादसे में तीन जनों की मौत हो गई। इसमें दूल्हे की एक बुआ का दामाद, दूसरी बुआ का बेटा और बैंडबाजे के साथ गीत गाने वाला शामिल है।


शादी पूर्व विधायक भैरू सिंह गुर्जर के पुत्र की बरात की निकासी के दौरान हादसा हुआ। हादसे में 21 बराती घायल हुए, जिनमें 11 गंभीर को जयपुर रेफर किया गया। माहौल को देखते हुए रात को ही पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किए। डिप्टी एसपी नवाब खान ने बताया कि गुरुवार को जीप चालक मनभावन गुर्जर निवासी अगली कोठी सिकंदरा को उसके घर से गिरफ्तार किया है।


ऐसे हुआ हादसा

- पूर्व विधायक भैरूसिंह गुर्जर के पुत्र की शादी बांदीकुई निवासी सुरेंद्र कसाना की पुत्री के साथ होने को लेकर पाली जिले के फालना से बारात बाईपास पर स्थित गोकुल पैलेस मैरिज होम में आई थी।

- रात 10 बजे बाइपास पर एक निजी होटल के सामने से बारात मैरिज होम के लिए रवाना हुई।

- मेगा हाइवे पर बैंडबाजे की धुन पर बाराती नाचते हुए चल रहे थे। मैरिज होम से आधा किमी पहले पीछे से आई तेज रफ्तार जीप बरातियों के बीच घुस गई और उनको कुचलती हुई बैंड से टकरा कर रुक गई।

- भैरूसिंह के भांजी दामाद लक्ष्मणवीर निवासी कोटा व बहन के लड़के सनी निवासी फालना सहित बैंड पर गाना गा रहे बैंडकर्मी राजकुमार कोली निवासी पीचूपाड़ा खुर्द की मौत हो गई। वहीं 21 अन्य घायल हो गए।

इस तरह बारातियों के बीच घुसी जीप

- प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि निकासी में बराती नाचते हुए चल रहे थे। पीछे दूल्हा घोड़ी पर सवार था तथा उसके आगे महिला बराती नाच रही थी और उससे आगे पुरुष नाचते हुए चल रहे थे।

- इसी दौरान पीछे से आई जीप दूल्हे व महिला बरातियों से आगे पुरुष बरातियों को कुचलते हुए बैंड से टकरा गई।

- हाइवे पर बरातियों को कुचलने वाली जीप का चालक हादसे के बाद मौके से फरार हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस जीप एवं बैंड को पुलिस चौकी ले आई।

बैंड पर गाना गा रहा राजकुमार भी बना काल का ग्रास
- मृतकों में शामिल बांदीकुई के पीचूपाड़ा खुर्द निवासी राजकुमार कोली बैंड पर बारातियों की फरमाइश में गाने गा रहा था, लेकिन तेज रफ्तार जीप के बैंड से टकराने से उसकी भी मौत हो गई।

देर रात अस्पताल पहुंचे एसपी व एसडीएम, रात को ही पोस्टमार्टम
- सूचना पर एसडीएम सीएल मीना तथा रात 12 बजे एसपी चूनाराम जाट भी अस्पताल पहुंच गए। स्थिति की देखते हुए रात 1:15 बजे पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किए गए।

बराती-घराती भी थे रुआंसे

- ये तस्वीर हादसे के बाद की हकीकत बयां कर रही है। बांदीकुई व आसपास क्षेत्र में हादसे के बारे में जिसने भी सुना, चौंका ओर रुआंसा हो गया। सबकी जुबां पर यही सवाल था-खुशियां कैसे गम में बदल गई?

- हाइवे के किनारे बिखरे जूते-चप्पल और साफों को देखकर यहां हर शख्स यह महसूस कर रहा था कि कुछ देर पहले यहां खुशियों की धुनें बज रही थी जो बाद में गम में तब्दील हो गई।

- हादसे से पहले जो साफे दूल्हे के परिजनों के सिर पर बंधे थे, उतर गए। सड़क किनारे दूसरे दिन भी इन्हें किसी ने नहीं उठाया।

- बरातियों के जूते चप्पल जो पैरों के साथ थिरक रहे थे, मौके पर ऐसे ही बिखरे पड़े हैं। फेरों के समय जब खुशियों का माहौल होता है, तब वहां सिर्फ आंसू थे।

- दूल्हा-दुल्हन के साथ चारों ओर खड़े परिजन भी रो रहे थे। उधर, हादसे मरे दूल्हे की एक बुआ के जंवाई ओर दूसरी बुआ के बेटे का पोस्टमार्टम भी तभी हुआ।

- विदा के समय माहौल और गमगीन हो गया। बरात के साथ परिवार के दो लोगों की लाशें भी गई।

इस तरह बारातियों के बीच घुसी जीप इस तरह बारातियों के बीच घुसी जीप