--Advertisement--

जिगरी दोस्त ने ही किया था मर्डर, इकलौते बेटे की मौत से टूट गया पिता

तीसरे दिन पुलिस के जाल में फंसे आरोपी, 2 अारोपी नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से और 3 भिवाड़ी से गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 01:36 AM IST
कारपेंटर के 16 वर्षीय बेटे यश का शव हरियाणा सीमा में मिला। लाल घेरे में मृतक यश और गम में दुखी पिता। कारपेंटर के 16 वर्षीय बेटे यश का शव हरियाणा सीमा में मिला। लाल घेरे में मृतक यश और गम में दुखी पिता।

भिवाड़ी/अलवर. राजस्थान के भिवाड़ी में अपहरण के 4 दिन बाद पुलिस ने हरियाणा बॉर्डर के भीतर सूखे नाले से 16 साल के किशोर यश जांगिड का शव बरामद किया। मृतक यश के जिगरी दोस्त सहित 5 आरोपियों ने वारदात की। सभी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

- पूछताछ में खुलासा हुआ कि किडनैपर्स ने शनिवार को अपहरण के कुछ घंटे बाद ही यश की हत्या कर दी थी, लेकिन उसे सुरक्षित बता वे परिवार से लगातार फिरौती मांगते रहे। परिजनों ने 40 लाख फिरौती को अपने बूते से बाहर बताया तो रकम आधी कर दी।

- यश के पिता को रकम लेकर दिल्ली बुलाया, लेकिन वहां आरोपी भिवाड़ी व दिल्ली पुलिस के जाल में फंस गए। दो आरोपियों को पुलिस ने मंगलवार देर रात नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से धर दबोचा।

-आरोपियों की निशानदेही पर बुधवार सुबह भिवाड़ी मोड से करीब 500 मीटर दूर हरियाणा सीमा में महेश्वरी रोड नाले से यश का शव बरामद किया गया। वारदात में शामिल तीन और आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

- सभी आरोपी 18 से 22 वर्ष उम्र के हैं। पुलिस प्रथमदृष्टया इसे फिरौती वसूली का केस ही मान रही है।

40 लाख रुपए फिरौती मांगी

- एएसपी पुष्पेंद्र सिंह सोलंकी ने बताया कि शनिवार शाम भिवाड़ी के हाउसिंग बोर्ड सेक्टर दो निवासी प्रमेश जांगिड़ ने मामला दर्ज कराया था कि उसका 16 वर्षीय बेटा यश जांगिड़, जो कि महेश्वरी स्थित एमएलपी स्कूल में 9वीं क्लास का स्टूडेंट है, दोपहर बाद से ही घर से गायब है।

- शाम को उसके मोबाइल पर कॉल किया तो किसी अज्ञात ने फोन उठाया और कहा कि उनके बेटे का अपहरण हो गया है। उसने प्रमेश से 40 लाख रुपए फिरौती देने पर यश को छोड़ने की बात कही।

- पुलिस ने यश की तलाश के लिए टीमें गठित कर आसपास के इलाकों में भेजी। इस बीच अपहर्ता परिजनों मोबाइल पर लगातार फिरौती मांग रहे थे।

- पुलिस नंबर ट्रेस कर उन तक पहुंचने की कोशिश कर रही थी। रविवार को पुलिस को पता चला कि शनिवार से ही यश का खास दोस्त दीपक भी गायब था। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की।

शराब की बोतलें भी मिलीं

- मंगलवार देर रात दिल्ली पुलिस ने दीपक (20) पुत्र लालबहादुर कुशवाह निवासी करौंदा को देवरिया यूपी हाल भगत सिंह कॉलोनी भिवाड़ी और साजिद (20) पुत्र शहजाद मलिक निवासी सेलमपुर नई दिल्ली के साथ नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पकड़ लिया। दोनों भागलपुर वाली ट्रेन में बैठकर भागने की फिराक में थे।

- हरियाणा सीमा के जिस नाले में शव मिला। वहीं उसके नजदीक सरसों के खेत में आसपास शराब की बोतलें मिलीं और काफी फसल भी टूटी पड़ी मिली।

उम्र में बड़ा है दीपक, यश ने बनाया जिगरी, उसी ने मार डाला

- पूछताछ में दीपक और साजिद ने बताया- दीपक की यश से अच्छी दोस्ती थी। घर भी आना जाना था। शनिवार को वही यश को साथ लेकर आया। फिर चार दोस्तों के साथ उसे हरियाणा सीमा में महेश्वरी रोड पर खेतों में ले गया, जहां यश को उन पर शक हो गया। वह विरोध करने लगा।

- इसी दौरान यश का मुंह किसी पत्थर से टकरा गया। वह बेहोश हो गया और यह देखकर आरोपी घबरा गए। उन्होंने पैर से गला दबाकर यश की हत्या कर दी। शव को समीप ही सूखे नाले में पटक दीपक और साजिद दिल्ली भाग गए। बाकी तीन साथी भिवाड़ी में ही रहे।

- आरोपियों ने परिजनों को फिरौती लेकर पहले कोलकाता बुलाया। परिजनों ने बेटे से बात कराने को कहा तो झूठ बोल दिया कि वह सुरक्षित है। आधी फिरौती देकर दिल्ली से उसे ले जाएं, लेकिन यहां वे पुलिस के जाल में फंस गए।


यश कहता था जिगरी दोस्त

- यश के पिता प्रमेश कारपेंटर का काम करते हैं। वह अपनी दो बहनों के बीच में इकलौता भाई था। हर कोई हतप्रभ था कि जिस दीपक को उम्र में बड़ा होने पर भी यश ने जिगरी दोस्त बनाया, उसी ने जान ले ली।

40 से 20 लाख की फिरौती पर आ गए थे आरोपी
- यश के मोबाइल पर लगातार घर से फोन आए तो दीपक व साजिद ने काॅल रिसीव कर 40 लाख की फिरौती मांगी। यश को सुरक्षित बताया। पुलिस उनके मोबाइल को ट्रेस नहीं कर पाई, क्योंकि वे बात करने के वक्त ही मोबाइल ऑन करते।

- परिवार ने 40 लाख रुपए की रकम बूते से बाहर बताई तो कहा कि 50 प्रतिशत का डिस्काउंट करते हैं, 20 लाख लेकर दिल्ली आ जाओ। हमारे पास ज्यादा समय नहीं है। मोबाइल की लोकेशन दिल्ली में आई तो दिल्ली पुलिस की मदद से उन्हें गिरफ्तार किया गया।

- पुलिस ने बताया कि तीन अन्य आरोपी मुन्ना (22) पुत्र फूलसिंह निवासी रामचौक भिवाड़ी, हर्ष मणि (19) पुत्र दीपक मणि निवासी मेरठ हाल सेक्टर तीन भिवाड़ी व आकाश (18) पुत्र नरेशपाल निवासी नेनुआ ताली मुजफ्फरनगर हाल सेक्टर छह भिवाड़ी हैं।

मृतक यश मृतक यश
दोनों आरोपी दीपक और साजिद। दोनों आरोपी दीपक और साजिद।
पिता जो टूट गया पिता जो टूट गया
X
कारपेंटर के 16 वर्षीय बेटे यश का शव हरियाणा सीमा में मिला। लाल घेरे में मृतक यश और गम में दुखी पिता।कारपेंटर के 16 वर्षीय बेटे यश का शव हरियाणा सीमा में मिला। लाल घेरे में मृतक यश और गम में दुखी पिता।
मृतक यशमृतक यश
दोनों आरोपी दीपक और साजिद।दोनों आरोपी दीपक और साजिद।
पिता जो टूट गयापिता जो टूट गया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..