--Advertisement--

बहन को ससुराल छोड़ लौट रहा भाई, ट्रक के नीचे दबा; 13 घंटे बाद पता चला

बाइक भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई पर मृतक के मोबाइल का कुछ नहीं बिगड़ा।

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 10:22 PM IST

हलैना/भरतपुर. बहन को ससुराल ललिता मूडिया छोड़ गांव माफी लौट रहा 24 वर्षीय भाई बाइक सहित हलैना के निकट ट्रक पलटने से उसके नीचे दब गया। करीब 13 घंटे बाद ट्रक को सीधा किया तो राधेश्याम का शव मिला। जिस ट्रक के नीचे युवक दबा उसमें गिट्टियां भरी हुई थीं। गांव के बीच में महज 8 किलोमीटर की दूरी है, इसलिए बहन ने भाई को रोका नहीं था।

- दरअसल, नया गांव माफ़ी निवासी 24 वर्षीय राधेश्याम पुत्र मानसिंह मीणा बहन को ससुराल गांव ललिता मूडिया छोड़ने के लिए गया था।

- वहां से रविवार रात में करीब 9 बजे लौट रहा था, तभी रास्ते में भरतपुर से आ रहा ट्रक अनियंत्रित होकर पटल गया, इस ट्रक के नीचे राधेश्याम बाइक सहित दब गया। ट्रक में गिट्टी भरी हुई थी।

- घटना की जानकारी होते ही मौके पर पुलिस और हाईवे सेफ्टी की टीम पहुंची। हाई वे सेफ्टी की टीम ने रात में सोमवार सुबह 7 बजे हाईवे सेफ्टी टीम दुबारा पहुंची और ट्रक से गिट्टी निकालकर करीब 10.45 बजे ट्रक को खाली कर लिया गया।

- इसके बाद 11 बजे जेसीबी से ट्रक सीधा किया तो ट्रक के नीचे बाइक सहित राधेश्याम दबा मिला। पुलिस पहुंचती उससे पहले ही ट्रक ड्राइवर और मालिक वहां से भाग निकले। बाइक भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई पर मृतक के मोबाइल का कुछ नहीं बिगड़ा।

काश...भाई को रोका होता
- घटना की जानकारी मिलते ही बहन गीता फिर से मायके पहुंच गई। रविवार को जहां पर रोते रोते विदा हुई थी, वहीं सोमवार को रोते रोते पहुंच गई। गांव की अन्य महिलाओं के बीच केवल इतनी की कह पाई के काश उसने भाई को रोक लिया होता।

- गांव केवल 8 किलोमीटर दूर था, इसलिए आने दिया। उसे लगा कि भतीजा मयंक उसको याद करेगा इसलिए उसने राधेश्याम को आने दिया।