--Advertisement--

बाइक सवार कपल कोे ट्रैक्टर से कुचला, पत्नी की मौत; बाद में पति की भी हत्या

हमले के बाद पति को अगवा किया, शाम को खाल में मिला शव, तलवार व पिस्टल बरामद

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 04:21 AM IST

सुनेल(झालावाड़). तीन साल पुराने एक मर्डर की रंजिश में झालावाड़ जिले के सुनेल थाना क्षेत्र में बुधवार को महिला को ट्रैक्टर से कुचलकर मार डाला। आरोपियों ने उसके पति को अगवा कर लिया और शाम को उसका शव मिला। घटना तब हुई, जब दंपती भवानीमंडी कोर्ट में मर्डर की तारीख पर जा रहे थे। दोहरे हत्याकांड के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। नामजद आरोपियों की तलाश में पुलिस ने जिलेभर में टीमें लगाई हैं।

- पुलिस ने बताया कि 2014 में मेड़ के विवाद को लेकर बोलिया बुजुर्ग गांव के तेज सिंह पुत्र दुर्गासिंह की पड़ोसी खेत वाले राजू पाटीदार ने हत्या कर दी थी। राजू पाटीदार कुछ समय बाद जमानत पर छूटकर आ गया।

चेहरा कुचलकर राजू की हत्या की
- बुधवार को तेज सिंह हत्याकांड में भवानीमंडी कोर्ट में पेशी थी, जिस पर राजू पाटीदार, उसकी पत्नी शोभा और पिता रामकरण पाटीदार बाइक से रवाना हुए थे। रास्ते में आहू नदी के पास बोलिया बुजुर्ग गांव के फतेह सिंह पुत्र दुर्गा सिंह, दुर्गा सिंह व कालू सिंह ने बाइक को ट्रैक्टर से टक्कर मार दी। इससे शोभा बाई की मौके पर ही मौत हो गई।

- जान बचाकर भाग रहे राजू पाटीदार को हमलावरों ने पीछा करके पकड़ लिया और अगवा कर ले गए। जैसे-तैसे राजू का पिता रामकरण जान बचाकर भागा और उसने पुलिस को सूचना दी।

- पुलिस ने मौके से शोभा का शव, ट्रैक्टर समेत 2 तलवारें और 1 लोडेड पिस्टल भी बरामद की।

- अगवा किए गए राजू की तलाश में अभियान शुरू किया तो शाम को सिरपोई के खाळ में राजू का भी शव मिल गया। उसका चेहरा बुरी तरह कुचला हुआ था।

- पुलिस ने रामकरण पाटीदार की रिपोर्ट पर तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

हत्या का बदला लेने के लिए दिया वारदात काे अंजाम : डीएसपी

- रामकरण पुत्र लालचंद पाटीदार की रिपोर्ट पर अपहरण एवं हत्या की धारा में प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ कर दिया गया है। 2014 में तेजसिंह की हत्या हुई थी। संभवत: उसी का बदला लेने की गरज से दंपती की हत्या की गई है। हमलवरों की तलाश की जा रही है।
वैभव शर्मा, डीएसपी, भवानीमंडी

यह वारदात पुरानी रंजिश का नतीजा है। हमारी टीमें आरोपियों के काफी करीब हैं, जल्दी ही गिरफ्तारी होगी।

- विशाल बंसल, आईजी