Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» BJP To Find Caste Equality On The Byelection Claims

उपचुनावों की दावेदारी पर जातिगत समीकरण तलाशने में जुटी BJP

अलसीसर हाउस में पदाधिकारियों से लिया फीडबैक, अजमेर से रामस्वरूप लांबा, बीपी सारस्वत व अलवर से डॉ. जसवंत यादव

Bhaskar News | Last Modified - Dec 29, 2017, 06:40 AM IST

उपचुनावों की दावेदारी पर जातिगत समीकरण तलाशने में जुटी BJP

जयपुर. अजमेर, अलवर लोकसभा व मांडलगढ़ विधानसभा पर होने जा रहे उपचुनावों में अपने प्रत्याशी के चयन के लिए गुरुवार को भाजपा की रायशुमारी बैठक में जातिगत समीकरणों पर मंथन चला। अलसीसर हाऊस में हुई इस बैठक में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, संगठन महामंत्री वी सतीश, प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी व संबंधित जिलों के विधायक, जिलाध्यक्ष, मंडल अध्यक्ष तथा कार्यसमितियों के पदाधिकारी शामिल हुए।


प्रत्याशियों के चयन के लिए सभी पदाधिकारियों को एक पर्ची देकर उसपर तीन संभावितों के नाम लिखवाए गए। पर्ची को एक बॉक्स में डलवाया गया। अजमेर सीट के लिए दावेदार के रूप में सांवरलाल जाट के बेटे रामस्वरूप लांबा का नाम सामने आया है। भाजपा 1 जनवरी को अजमेर में बड़े स्तर पर सांवरलाल जयंती मनाने जा रही है। इसलिए माना जा रहा है कि सांवरलाल की सहानुभूति बटोरने के लिए उनके बेटे को टिकट दिया जाएगा।

रायशुमारी में लांबा के अलावा अजमेर देहात के जिलाध्यक्ष बीपी सारस्वत सारस्वत का भी नाम सामने आया है। अलवर व मांडलगढ़ में प्रत्याशी तय करने के लिए देर रात तक मंथन चला। जातीय समीकरण में मौजूदा कैबिनेट मंत्री व बहरोड़ विधायक डॉ.जसवंत यादव का नाम अलवर सीट के प्रमुख दावेदारों में है। यहां के लिए की गई रायशुमारी में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य संजय शर्मा का नाम मजबूती से सामने आया है। बताया जा रहा है कि अलवर के चार विधायकों ने संजय शर्मा की दावेदारी का समर्थन किया है।

मुद्दे उठे तो सीएम ने अफसरों को तलब किया
बैठक में क्षेत्र की समस्याओं पर भी बातचीत हुई। शिक्षा से जुड़े कुछ मामले आए तो इसके लिए शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी व प्रमुख सचिव नरेशपाल गंगवार को मौके पर बुला लिया गया। सड़क के मामलों के लिए पीडब्लूडी मंत्री यूनुस खान को बुलाया गया। रिफाइनरी उद्घाटन के लिए पीएम यात्रा को लेकर तैयारी बैठक सीएमआर में प्रस्तावित थी, लेकिन रायशुमारी में समय लगने के चलते अफसरों को अलसीसर हाऊस ही बुला लिया गया। इनमें मुख्य सचिव अशोक जैन, डीजीपी ओपी गहलोत्रा, प्रमुख गृह सचिव दीपक उप्रेती व पीएचईडी के प्रमुख सचिव रजत मिश्र व खान विभाग की प्रमुख सचिव अपर्णा अरोड़ा शामिल थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×