Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Chandavas Mahadev Temple Bhilwara

कमर तक पानी में खड़े होकर पुजारी इस मंदिर की करता है पूजा, ये है इसके पीछे का कारण

चन्दवास का शिवालय : बारिश के तीन माह तो पूरा पानी में डूबा रहता है

Bhaskar news | Last Modified - Apr 04, 2018, 07:47 AM IST

  • कमर तक पानी में खड़े होकर पुजारी इस मंदिर की करता है पूजा, ये है इसके पीछे का कारण
    +3और स्लाइड देखें
    नौ महीने पुजारी कमर तक पानी में खड़े होकर करता है पूजा।

    फलासिया(भीलवाड़ा). ये फोटो क्षेत्र के चन्दवास महादेव मन्दिर की है। 490 साल पुराना यह मंदिर सालभर ऐसे ही पानी में डूबा रहता है। ऐसे हालात मानसी वाकल बांध बनने के बाद से आए हैं। करीब 42 फीट ऊंचा यह शिवालय अभी 18 फीट तक पानी में डूबा हुआ है, लेकिन पूजा रोज होती है। पुजारी नितेश मन्दिर के पीछे से शिखर पर चढ़कर आगे आते हैं, फिर कमर तक पानी में खड़े रहकर पूजा करते हैं।ये मुश्किलें आतीं हैं...

    - पानी भराने से महिलाओं की पहुंच तो मुश्किल होती है, लेकिन पुरुषों के मंदिर के सामने तक पहुंचने का ऐसा ही क्रम रहता है।

    - बारिश के तीन माह के दौरान मंदिर पूरा जलमग्न हो जाता है। तब पूजा पर भी विराम रहता है।

    - बाकी के 8, 9 महीने श्रद्धालु भी मंदिर के पीछे से ऊपर चढ़कर पहुंचते हैं, लेकिन तब भी पूजा पानी में खड़े होकर ही करनी पड़ती है।

    मानसी वाकल बांध से बने हालात


    - 490 साल पुराना यह शिवालय साल 2001 में मानसी वाकल बांध बनने पर 2006 में डूब क्षेत्र में आ गया था।

    - इस मन्दिर पर 22 सीढ़िया हैं। अभी चार दिन पहले मानसी वाकल के गेट खोलने से मन्दिर की चार सीढियां दिखने लगी है।

    - साल में ज्यादा समय तक पानी में डूबे रहने से गांव के लोगों ने बाहर ही एक और शिवालय बनवा दिया है, लेकिन पुराने मन्दिर के प्रति आस्था ज्यादा है।

    - मन्दिर पर पूर्णिमा और शिवरात्रि पर ध्वजा चढ़ाई जाती है। मंदिर के पीछे से शिखर पर चढ़ते हैं।

  • कमर तक पानी में खड़े होकर पुजारी इस मंदिर की करता है पूजा, ये है इसके पीछे का कारण
    +3और स्लाइड देखें
    पानी भरने पर लोगल बाहर से ही पूजा करते हैं।
  • कमर तक पानी में खड़े होकर पुजारी इस मंदिर की करता है पूजा, ये है इसके पीछे का कारण
    +3और स्लाइड देखें
    ये मंदिर 490 साल पुराना है।
  • कमर तक पानी में खड़े होकर पुजारी इस मंदिर की करता है पूजा, ये है इसके पीछे का कारण
    +3और स्लाइड देखें
    ऐसे पानी भरा रहता है यहां।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×