--Advertisement--

आरएएस पाराशर को मेडिकल से नहीं हटाया, पुरानी सीट पर डॉक्टर लगाया

डॉक्टरों के ट्रांसफर पर रोक से कोर्ट का इंकार, डॉक्टरों की डीएसीपी की मांग सरकार ने मानी

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 05:07 AM IST
Court refuses to stop doctor s transfer

जयपुर. हाईकोर्ट ने 12 सेवारत डॉक्टर्स के तबादलों पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है। गत माह चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए तबादलों को चुनौती देने डॉक्टर कोर्ट गए थे। दूसरी तरफ सेवारत डॉक्टरों का 12 नवंबर को सरकार के साथ हुए एमओयू के बिंदू संख्या 6 की पालना में भी सरकार ने डॉक्टरों को खुश भी कर दिया और कांटा भी चुभा दिया।

- एडिशनल डॉयरेक्टर (गजेटेड) की पोस्ट पर नियुक्त आरएएस अफसर गिरीश पाराशर को वहीं पर एडिशनल डायरेक्टर (एडमिनिस्ट्रेशन) के पद पर नियुक्त कर दिया है। उनके पुराने पद पर डॉक्टरों की मांग के अनुसार डॉ. आरएस छीपी को नियुक्त किया है।

- कोर्ट के आदेश के बावजूद डॉक्टर दिन भर पुलिस द्वारा पकड़े जाने और धमकाने का एक दूसरे को डर दिखाते रहे, इस कारण ग्रामीण क्षेत्रों में खासी सेवाएं प्रभावित रही। जयपुर में 50 से अधिक सीनियर रेजीडेंट्स तो काम पर लौटे, लेकिन जूनियर रेजीडेंट्स पर एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्रबंधन की निलंबन की धमकी का कोई असर नहीं हुआ।

एसएमएस में 235 में से 50 सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर लौटे काम पर

हड़ताल पर गए सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर्स में से दो धड़े हो गए हैं। एसएमएस अस्पताल में करीब 235 सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर्स काम कर रहे हैं। इसमें से बुधवार को कार्रवाई के डर की वजह से 50 डॉक्टर्स काम पर लौट आए हैं। मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ यूएस अग्रवाल का कहना है कि जो रेजीडेंट डॉक्टर्स काम पर नहीं लौटे उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए लीगल सलाह ली जा रही है। इसके बाद कार्रवाई की जाएगी। इसमें उन्हें निलंबित भी किया जा सकता है।

3 बीसीएमओ भी हड़ताल पर, कलेक्टर के आदेश बेअसर

अलवर में पांचवें दिन भी डॉक्टर हड़ताल पर रहे। कोटकासिम, रामगढ़ व मालाखेड़ा बीसीएमओ भी बुधवार को हड़ताल पर चले गए। मांचा, बर्डोद, जैरोली, कालवाड़ी, हमीरपुर एवं अजबगढ़ के 6 प्रशिक्षु डॉक्टर लौट आए हैं। आरसीएचओ, डिप्टी सीएमएचओ व 11 बीसीएमओ सहित जिले के 414 डॉक्टर हड़ताल चल रहे हैं।

डीएसीपी के भुगतान हुए एरियर की वसूली पर रोक लगाई

सरकार ने चिकित्सकों को डीएसीपी के भुगतान हुए एरियर की वसूली रोक दी है। पूर्व में एरियर नहीं देनेपर एरियर का भुगतान करने की अधिसूचना जारी कर दी है। 1 अप्रेल 2018 से डीएसीपी का लाभ ज्वाइनिंग डेट की बजाय योग्यता की दिनांक (प्रमोशन ड्यू डेट) से देने की अधिसूचना जारी कर दी है। हड़ताल के बाद सरकार और डॉक्टरों के बीच एमओयू में सबसे बड़ी मांग यही थी।

X
Court refuses to stop doctor s transfer
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..