--Advertisement--

अपार्टमेंट में आग, एक घंटे में 3 किमी दूर दमकल पहुंची

दुर्गापुरा में हुआ हादसा, शार्ट सर्किट से लगी आग, पड़ोसियों ने दमकल पहुंचने से पहले बुझाई

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 05:47 AM IST

जयपुर. विद्याधर नगर सेक्टर-9 में हुई आगजनी की घटना में लापरवाही करने वाले दमकलकर्मियों ने अभी तक सबक नहीं लिया है। शुक्रवार रात को दुर्गापुरा शांतिनगर स्थित शेखावत अपार्टमेंट के एक फ्लैट में शार्ट सर्किट होने से भीषण आग लग गई। लोगों ने इसकी सूचना दमकल को दी, लेकिन एक घंटे बाद फायर ब्रिगेड के कर्मचारी गाड़ी लेकर आग बुझाने आए।

खास बात यह है कि तब तक आस-पास के लोगों ने मिलकर आग को बुझा दिया। हालांकि बड़ा हादसा होने से टल गया। आग रसोई के अंदर तक पहुंच गई थी। ऐसे में नगर निगम के अफसरों की कार्यशैली पर एक बार फिर सवाल खड़े होने लगे है।


घटनास्थल से मानसरोवर स्थित फायर स्टेशन की दूरी महज तीन किलोमीटर है। दरअसल प्रदीप सिंघी शांतिनगर के 5 मंजिला शेखावत अपार्टमेंट के प्रथम फ्लोर के फ्लैट में परिवार के साथ रहते हैं। प्रदीप सिंघी परिवार के साथ मानसरोवर गए थे। इस दौरान फ्लैट में अचानक शार्ट सर्किट से आग लग गई। जब फ्लैट से धुंआ बाहर आया तो पड़ोसियों को इसकी भनक लगी। तब लोगों ने इसकी सूचना पुलिस व प्रदीप को दी। सूचना के कुछ मिनट बाद ही प्रदीप मानसरोवर से अपने घर पर आ गए और पड़ोसियों की मदद से आग पर काबू ला लिया। प्रदीप सिंघी का आरोप है कि फायर ब्रिगेड को कई दफा फोन किए, लेकिन एक घंटे बाद आई।


आरयू : केमिस्ट्री लैब में लगी आग, कर्मचारियों ने बुझाई
राजस्थान विश्वविद्यालय के केमिस्ट्री डिपार्टमेंट की लैब में शनिवार को आग लग गई, जिसे मौजूद कर्मचारियों ने फायर एक्सटिंग्युशर की मदद से तुरंत बुझा दिया। आग के कारण लैब में रखे कुछ केमिकल्स से धुआं निकलने लगा जिसकी सूचना के बाद विभागाध्यक्ष ने फायरब्रिगेड को कॉल कर बुलाया, लेकिन इससे पहले ही आग पर काबू पा लिया गया था, जानकार आग का कारण शॉर्ट सर्किट बता रहे हैं।